ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड : पशुओं को गलाघोंटू रोग से बचाने के लिए चलाएगा टीकाकरण अभियान

कोरोना वॉरियर की लिस्ट में अब पशु चिकित्सक और वालंटियर भी शामिल हो गए हैं। पशुधन को बचाने के लिए ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड पशु चिकित्सकों को गाँव गाँव किसानों के पास भेजकर पशुओं के टीकाकरण का कार्य शुरू कराने जा रहा है। इस अभियान की शुरुआत ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र से करने जा रहा है ताकि पशुओं को गलाघोटू बीमारी से बचाया जा सके।

0
2609
ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड
ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड

  • उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र से होगी टीकाकरण की शुरुआत
  • पशुधन को खुरपका-मुंहपका और गलाघोंटू रोग से बचाएगा टीका 

पोल टॉक नेटवर्क | लखनऊ

कोरोना वॉरियर की लिस्ट में अब पशु चिकित्सक और वालंटियर भी शामिल हो गए हैं। पशुधन को बचाने के लिए ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड पशु चिकित्सकों को गाँव गाँव किसानों के पास भेजकर पशुओं के टीकाकरण का कार्य शुरू कराने जा रहा है। इस अभियान की शुरुआत ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र से करने जा रहा है ताकि पशुओं को गलाघोटू बीमारी से बचाया जा सके।

पीएम बनते-बनते रह गये थे प्रणब दा ! बना लिए थे अलग दल ! बाद में राष्ट्रपति बने ! बड़ी रोचक है कहानी !

इस टीकाकरण अभियान के अंतर्गत पशु चिकित्सक एवं वालंटियर सभी बचाव उपकरणों, सुरक्षा मानकों को अपनाते हुए गाँव गाँव किसान परिवार में जाकर पशुओं में फैलने वाली जानलेवा विमारियों के लक्षणों को चिन्हित कर टीकाकरण का कार्य करेंगे । ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड ने पशुओं में फैलने वाले मुंहपका – खुरपका एवं गलघोटू जैसी जानलेवा विमारियों से पशुधन को बचाने हेतु सघन टीकाकरण अभियान शुरू कर रहा है। पूर्वांचल क्षेत्र में फिलहाल किसी भी किसान के पशुओं में मुंहपका – खुरपका और गलघोटू बीमारी के लक्षण पता चलने पर  वैक्सीन लगाया जाएगा।

विपक्ष की आलोचना से परेशान हुए झारखंड के शिक्षामंत्री, 11वीं में लिया एडमिशन, बच्चों के साथ क्लास में पढ़ेंगे

टीकाकरण अभियान को लेकर परिषद का कहना है कि इस वैक्सीन के कारण गर्दन पर सूजन आना एवं मामूली बुखार आना एक सामान्य प्रक्रिया है. इससे पशुपालकों को घबराने की आवश्यकता नहीं है. वैक्सीन करवाने के बाद पशुओं को छाया में रखना चाहिए. शाम के समय पशु को गुड़ और तेल की आवटी पिलाएं. इससे भी दूध कम नहीं होगा. विभाग के कर्मचारियों द्वारा वैक्सीन की कोल्ड चेन पूर्ण रूप से मेंटेन की जाती है. टीकाकरण अभियान के लिए विभाग द्वारा सभी आवश्यक दिशा निर्देश विभाग की टीम को दे दिए गए हैं. वैक्सीन शेड्यूल जारी कर दिया गया है. जिस गांव में टीकाकरण होगा उससे पहले वहां सरपंच के जरिए भी जानकारी उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा.

कभी बसपा में ‘ब्राह्मणों’ का था राज और मायावती की थी सरकार ! अब क्यों याद आ रहे परशुराम !

ग्रामीण कृषि विकास बोर्ड के अध्यक्ष वशिष्ठ तिवारी ने बताया कि बोर्ड के वालंटियर व चिकित्सको की पूरी टीम सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए और मास्क लगा कर जनपद के गाँव गाँव मे जाकर पशुओं के टीकाकरण का कार्य करेगी।

दिल्ली में वसुंधरा, मानेसर में सचिन और जैसलमेर में पड़ी है सरकार, ‘आनंद’ में अशोक गहलोत !


Leave a Reply