दोराई में लॉकडाउन के दौरान हंसराज बने ‘कोरोना वारियर्स’

राजस्थान के अजमेर के समाजसेवी और युवा नेता हंसराज चौधरी ने बताया कि संघ और भाजपा की प्रेरणा से हमारी टीम के द्वारा नियमित रूप से अजमेर और ग्रामीण इलाके के दोराई और आसपास के गाँव में पिछले 53 दिनों से सेवा कार्य कर रहे हैं.

0
432
HANSRAJ CHOUDHARI
दोराई में लॉकडाउन के दौरान बच्चे का बुखार नापता समाजसेवी .

  • दोराई और आसपास के गाँव में पिछले 53 दिनों से सेवा कार्य कर रहे हैं

अजमेर : राजस्थान के अजमेर (ajmer ke dorai) के समाजसेवी और युवा नेता हंसराज चौधरी ने बताया कि संघ और भाजपा की प्रेरणा से हमारी टीम के द्वारा नियमित रूप से अजमेर और ग्रामीण इलाके के दोराई और आसपास के गाँव में पिछले 53 दिनों से सेवा कार्य कर रहे हैं. जिस प्रकार पूरे विश्व में इतनी बड़ी महामारी इसने एक वैश्विक बीमारी का रूप धारण किया है उस भीषण आपदा मैं दौराई ग्राम और ग्राम से जुड़े अजमेर के आसपास के स्थानों पर हमारी टीम और समस्त ग्राम वासियों के सहयोग से निरंतर सेवा कार्य किए जा रहे हैं.

आत्मनिर्भरवीर : मोहम्मद अली फतह ने आंवले की बागवानी से बदली दी सैकड़ों किसानों की जिन्दगी

हमारा गांव एक परिवार है

इस अभियान के तहत नियमित 53 दिन से हमारी टीम के द्वारा पूरे गाँव दौराई में कई प्रकार के सेवा कार्य नियमित रूप से किए जा रहे हैं. जिसमें सोडियम हाइपोक्लोराइट दवाई का छिड़काव, सैनिटाइजर का वितरण, मास्क वितरण ,स्कैनिंग, संपूर्ण गांव में परिंदों के लिए परिंडे बांधना,रोज कई परिवारों को हरी सब्जी उपलब्ध कराना, काढ़ा वितरण व सुखी खाद्य सामग्री का पैकेट बनाकर अति आवश्यकमंद परिवारों को वितरित किया जा रहा है. अभी तक हमारी नजर में गाव और आस पास के हर जरूरत मंद परिवार का पूरा ध्यान रखा गया है। इसी अभियान को आगे बढ़ाते हुए 19 MAY से हमने काढ़ा बनाकर के संपूर्ण गांव में हमारी टीम के द्वारा निशुल्क काढ़ा बांटा जा रहा है।

नेता कितने सोशल : अखिलेश यादव से इस मामले में बहुत पीछे हैं योगी आदित्यनाथ और मायावती !

विषम परिस्थितियों में हमारे गांव को सुरक्षित रखने में पुलिसकर्मी चिकित्सा कर्मी सफाई कर्मी और भी अन्य लोगों का हमारी टीम के द्वारा सम्मान भी किया गया।। यह संपूर्ण कार्य हमारी टीम के द्वारा अपने निजी स्तर पर किए जा रहे हैं इन सभी कार्यो में गाव वालो का भरपूर सहयोग मिला है इसमें सरकार यह किसी भी प्रकार की कोई सहायता नहीं है

बड़ी पहल : केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) की कैंटीनों पर अब सिर्फ स्वदेशी उत्पादों की ही बिक्री होगी : अमित शाह

 


Leave a Reply