Lakhimpur violence: मूंछों पर ताव देते कोर्ट पहुंचा आशीष मिश्रा, पुलिस हिरासत में भी दिखाई हनक

Lakhimpur violence accused Ashish Mishra: लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा का पुलिस कस्टडी में फुल टशन का वीडियो सामने आया। मूंछों पर ताव देते हुए गया कोर्ट के अंदर

0
148
up Lakhimpur violence main accused Ashish Mishra in Full arrogance video viral

  • आशीष मिश्रा कोर्ट के बाहर मूंछों पर ताव देता दिखा 
  • तिकुनिया हिंसा कांड का मुख्य है आरोपी आशीष मिश्रा

पोलटॉक नेटवर्क | लखनऊ /आदित्य कुमार 

उत्तर प्रदेश का बहुचर्चित लखीमपुरी तिकुनिया हिंसा कांड का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की आज लखीमपुर खीरी जिला कोर्ट में पेशी थी। पेशी पर जाते समय मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा हेकड़ी दिखता नजर आया। पुलिस के घेरे में कोर्ट पहुंचा आशीष मिश्रा कैमरे के सामने मूंछों पर ताव देता रहा। आशीष मिश्रा मिश्रा की ओर से जिला अदालत में आज डिस्चार्ज एप्लीकेशन डाली गई। इसके लिए जिला कोर्ट पहुंचा आशीष मिश्रा मीडिया के सामने मूछों पर ताव देता दिखा।

दरअसल, मंगलवार को पुलिस आशीष मिश्रा को लखीमपुर खीरी जिला कोर्ट लेकर पहुंची। जहाँ उसके ऊपर लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आरोप तय होने हैं। कोर्ट के अंदर जाते वक्त मीडिया के कैमरे देखते ही आशीष मिश्रा मूछों पर ऐसे ताव देने लगा जैसे कोई जंग जीत कर आ रहा हो। आशीष मिश्र को देखकर कोई नहीं कह सकता कि उन्हें अपने किए का कोई पछतावा है। आशीष का कैमरे के सामने रुख देखकर यह बिलकुल प्रतीत नहीं हो रहा था जैसी उसे किसी बात का डर हो।

कोर्ट ने नेताओं की आलोचना 

आशीष मिश्रा की पुलिस हिरासत में मूछों पर ताव देने की तस्‍वीर तब सामने आई आई है जब एक दिन पहले ही सोमवार को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने खीरी के तिकुनिया कांड मामले की सुनवाई के दौरान नेताओं के गैर जिम्मेदाराना बयानों पर कड़ी टिप्पणी की। कोर्ट ने कहा कि जवाबी हलफनामे के मुताबिक यदि केंद्रीय राज्य मंत्री (अजय मिश्रा टेनी) ने कथित बयान न दिया होता तो यह घटना ही न हुई होती। न्यायमूर्ति दिनेश कुमार सिंह की एकल पीठ ने गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ और उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की आलोचना की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने रद्द की थी जमानत 

गौरतलब है कि गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ के बेटे आशीष मिश्रा जो लखीमपुर हिंसा मामले का मुख्य आरोपी है वह 28 दिन जेल में रहा उसके बाद उसे 15 फरवरी को हाईकोर्ट से जमानत मिली थी। हालांकि 18 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा की जमानत अर्जी खारिज कर दी थी। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने आशीष मिश्रा को एक हफ्ते के अंदर सरेंडर करने का निर्देश दिया था। 24 अप्रैल की दोपहर भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में आशीष मिश्रा ने मजिस्ट्रेट के सामने खुद को सरेंडर कर दिया था।


Leave a Reply