Home राजनीति से इतर LATEST UPDATE ...तो अब CM अशोक गहलोत के "हाथ" सरकार और संगठन दोनों की...

…तो अब CM अशोक गहलोत के “हाथ” सरकार और संगठन दोनों की रहेगी कमान !


  • सचिन पायलट के रहते गहलोत समर्थक संगठन में शांत रहे
  • राजस्थान की सभी जिला कांग्रेस समितिया और ब्लॉक समितिया भंग

संतोष कुमार पाण्डेय | सम्पादक

राजस्थान में कांग्रेस सरकार की कमान अशोक गहलोत के पास और संगठन की कमान सचिन पायलट के हाथ में थी. ऐसा सरकार गठन के बाद से चला आ रहा था. लेकिन इसी बीच सरकार में मंत्रिमंडल विस्तार की सुगबुगाहट से खलबली मच गई. और पायलट और गहलोत आमने सामने हो गये. सरकार में खलबली मची मगर अब सब कुछ ठीक होने की और इशारा है. लेकिन इसी बीच बड़ी खबर यह है कि सरकार के साथ ही साथ गहलोत संगठन पर भी नजर टिका दिए हैं. क्योंकि सचिन के हटने के बाद तुरंत राजस्थान प्रदेश की सभी जिला कांग्रेस समितियों और ब्लॉक कांग्रेस समितियों को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया गया. अब यही से नई कहानी शुरू हो गई है. आइये जानते हैं अब क्या हो सकता है. सूत्र बता रहे हैं कि अभी चीजें बदलेंगी.

राजस्थान प्रदेश की सभी जिला कांग्रेस समितियों और ब्लॉक कांग्रेस समितियों को तत्काल प्रभाव से भंग करने का फैसला किया है. नई समितियों के गठन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू होगी. सूत्र बता रहे हैं कि सचिन पायलट ने कांग्रेस के अंदर अपने व्यक्तिगत लोगों की एंट्री ज्यादा करवाई या यूं कहें कांग्रेस संगठन के अंदर कार्यकर्ताओं की बजाए अपने निजी लोगों को एंट्री करवा दी. इस तरह की बातें खूब हो रही है.

सूत्र बता रहे है कि बागी 19 विधायकों की आने वाले समय में सदस्यता रद्द हो सकती है. उनकी जगह उप चुनाव के लिए योग्य उम्मीदवारों का पैनल तैयार करेगी उक्त पैनल में प्रति विधानसभा पांच-पांच लोगों के नाम होंगे. जिनमें से किसी एक को पार्टी विधानसभा चुनाव में विधानसभा उपचुनाव में अपना प्रत्याशी घोषित करेगी. भले ही गोविंद सिंह डोटासरा प्रदेश अध्यक्ष हैं लेकिन उनकी भावभंगिमा गहलोत के प्रति ज्यादा झुकी हुई दिख रही है.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

शिक्षा में है बड़ी ताकत, यहीं से खुलते हैं सफलता के द्वार : सीए मुकेश

सीए बनने के लिए 6 बार असफल हुए राजपूत ने नहीं छोड़ी हिम्मत दिल्ली में सम्मानित...

उत्तराखंड के त्रिवेन्द्र रावत भाजपा के लिए हैं बड़े ‘खिलाड़ी’

त्रिवेंद्र सिंह रावत उत्तराखंड के कृषिमंत्री भी रहे चार साल से पहले ही उन्हें पद से हटा...

कांग्रेस से बाहर होते होते ज्योतिरादित्य ने कांग्रेस की सरकार ही गिरा दी

19 साल तक कांग्रेस में और अब भाजपा में चले गये  बड़ी जिम्मेदारी दोनों जगह नहीं मिल...

राजनीति में चमकते हुए आगे बढ़े जितिन प्रसाद

जितिन प्रसाद यूपीए सरकार में केंद्रीय राज्य मंत्री भी बनाए गए भारतीय युवा कांग्रेस के सचिव के...

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी में सिमरन व जोया ने मचाया धमाल

फ्रेशर्स पार्टी में स्टूडेंट्स ने लगाए ठुमके, यूजी में मिस फ्रेशर नैना और रितिक मिस्टर फ्रेशर पीजी में...