सपा विधायक दल की बैठक में नहीं शामिल हुए आजम और शिवपाल, बड़ी वजह आई सामने

रविवार को सपा मुख्यालय में हुई सपा विधायक दल की मीटिंग में नहीं शामिल हुए आजम खान और शिवपाल यादव।

0
97
Samajwadi Party mlas meet

  •  उत्तर प्रदेश की 18वीं विधानसभा का पहला सत्र सोमवार से शुरू होगा
  • रविवार को हुई सपा विधायक दल की बैठक

पोलटॉक नेटवर्क | लखनऊ/ आदित्य कुमार 

रविवार को उत्तर प्रदेश की 18वीं विधानसभा का सत्र (Assembly Session) शुरू होने से एक दिन पहले समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के मुख्यालय में सपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई। सपा विधायक दल की बैठक में हाल में जेल से रिहा हुआ समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से सपा विधायक आजम खान (Azam Khan) नहीं शामिल हुए। आजम खान के साथ ही उनके बेटे अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) भी विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हुए।

रविवार को समाजवादी पार्टी के मुख्यालय पर 18वीं विधानसभा का सत्र शुरू होने से पहले सत्र की रणनीति बनाने को लेकर सैप विधयक दल की बैठक की गयी। यह बैठक सपा अध्यक्ष और सूबे के नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव की अध्यक्षता में की गयी। जानकारी के मुताबिक विधानसभा सत्र की अवधि छोटी रखने के मुद्दे पर समाजवादी पार्टी सरकार का घेराव करेगी।

आजम खान नहीं हुए शामिल 

सपा विधायक दल की बैठक में जेल से रिहा हुए आजम खान नहीं शमिल हुए। आजम खान के बैठक में नहीं शमिल होने पर सपा नेता रविदास मेहरोत्रा ने उनकी तबियत न ठीक होने का हवाला दिया। सपा के वरिष्ठ नेता रविदास मेहरोत्रा ने कहा, ‘आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम कल (सोमवार) सत्र में भाग लेंगे।  उन्होंने कहा कि वह स्वास्थ्य कारणों से बैठक में शामिल नहीं हो सके। मेहरोत्रा ने बताया कि सोमवार को आजम खान पहले विधानसभा सदस्य के तौर पर शपथ लेंगे और फिर सत्र में भाग लेंगे।

वहीं शिवपाल सिंह यादव के बैठक में नहीं शामिल होने पर सपा नेता रविदास मेहरोत्रा ने बताया कि उन्होंने (शिवपाल यादव) सपा के चुनाव चिह्न (साइकिल) पर विधानसभा चुनाव जीता है लेकिन वह एक पार्टी के मुखिया भी हैं और पहले भी वह बैठक में शामिल नहीं हुए थे। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि अखिलेश यादव ने विधायकों को विधानसभा के सत्र में जनहित के मामलों को प्रमुखता से उठाने को कहा है।


Leave a Reply