आखिर अखिलेश यादव से क्यों नाराज है आजम खान का खेमा, खुलकर दर्द किया बयां

0
22
azam khan and akhilesh yadav

पोलटॉक नेटवर्क | लखनऊ 

उत्तर प्रदेश विधानसबह चुनाव में मिली हार के बाद से लगातार समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव के लिए मुश्किलें बढ़ती जा रहीं हैं। जहां एक तरफ अखिकेश यादव के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाले अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल सिंह यादव के बगावती तेवरदेखने को मिल रहें हैं तो वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के मुस्लिम चेहरा आजम खान का खेमा भी अखिलेश यादव से खुश नहीं हैं। आजम खान के समर्थक खुल कर विरोध में सामने आ गए हैं तो अब यह कहना गलत नहीं होगा की शिवपाल सिंह यादव को आजम खान के बीच फंस गयी है अखिलेश यादव की साइकिल।

क्यों नाराज है आजम खेमा 

उत्तर प्रदेश में समजवादी पार्टी का सबसे बड़ा मुस्लिम चेहरा हैं आजम खान और वो बीते लगभग ढाई साल से सीतापुर जेल में बंद हैं। अब आजम खान के समर्थकों की नाराजगी की बात करें तो वो नाराजगी खुलकर तो अब सामने आ रही है लेकिन ये जख्म पुराने हैं। आजम खान के समर्थक अखिलेश यादव से 2017 में योगी सरकार के बंनने के बाद से ही नाराज हैं। 2017 में योगी सरकार के आने से ही आजम खान के बुरे दौर की शुरुआत हुई और अखिलेश यादव इस मामले में लगभग चुप्पी ही साधे रहे। आजम खान के समर्थकों के अंदर मलाल इस बात है कि अखिलेश ने आजम की गिरफ्तारी का उस तरह विरोध नहीं किया, जितनी अपेक्षा की जा रही थी।

वहीं आजम खान के खेमे की नाराजगी तब और बढ़ गयी जब विधानसभा चुनाव के दौरान आजम खान की और से अपने बेटे के आलावा और उम्मीदवारों के लिए टिकट की मांग की गयी लेकिन अखिलेश यादव ने केवल आजम खान के बेटे को टिकट दिया अन्य को अनदेखा कर दिया।

नेता प्रतिपक्ष न बनाने का मलाल 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद आज़म खान के समर्थक खुल कर अखिलेश से नाराजगी जाहिर करने लगे। दरअसल, आजम खान से सांसद का पद छोड़ कर रामपुर से विधायक बनने का फैसला लिया इसके बाद आजम खान के समर्थक आशा कर रहे थे कि उन्हें नेता प्रतिपक्ष बनाया जायेगा लेकिन नेता प्रतिपक्ष के पद पर अखिलेश यादव स्वयं आसीन हो गए। जिससे आजम खान के समर्थकों में नाराजगी और बढ़ गयी। आज़म खान के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान शानू आजम खां ने अखिलेश यादव और उनके पिता का समाजवादी पार्टी के बनने और मुख्यमंत्री बनने तक हर कदम पर साथ दिया। शानू ने आजम खान के समाजवादी पार्टी पर तमाम अहसान गिनाए। उन्होंने कहा फिर भी अखिलेश यादव ने आजम खान को नेता प्रतिपक्ष नहीं बनाया।

रिपोर्ट- पत्रकार आदित्य कुमार 


Leave a Reply