भारत परिषद छात्र संगठन की प्रदेश, मंडल और जिला इकाई भंग

जिसमें सक्रिय युवाओं को भागीदारी दी जायेगी। संगठन के कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुये प्रदेश अध्यक्ष सावरन ने बताया कि भारत परिषद छात्र संगठन एक गैर-राजनैतिक संगठन है

0
33
भारत परिषद छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रेस वार्ता करते हुए.
भारत परिषद छात्र संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रेस वार्ता करते हुए.

  • अनुत्तीर्ण छात्र-छात्रायें उत्तर पुस्तिका के पुनः मूल्यांकन की कर रहे हैं मांग
  • न्याय नहीं मिला तो भारत परिषद आन्दोलन की चेतावनी दी है

पोल टॉक नेटवर्क | औरैया

भारत परिषद छात्र संगठन (bharat parishad chhatra sangathan) के प्रदेश अध्यक्ष दीपांशु सावरन ने संगठन की प्रदेश, मंडल और जिला इकाइयों को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही नई इकाइयों का गठन किया जायेगा। जिसमें सक्रिय युवाओं को भागीदारी दी जायेगी। संगठन के कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुये प्रदेश अध्यक्ष सावरन ने बताया कि भारत परिषद छात्र संगठन एक गैर-राजनैतिक संगठन है, जिसका उद्देश्य छात्र-छात्राओं का उत्पीड़न रोकना और उनके हित में संघर्ष करना है।

उन्होंने बताया कि जल्द ही नई इकाइयों का गठन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इस बार आये कानपुर यूनीवर्सिटी ( Kanpur University ) के आये परीक्षा परिणाम में भारी संख्या में छात्र-छात्राओं को अनुत्तीर्ण किया गया है। अनुत्तीर्ण छात्र-छात्रायें उत्तर पुस्तिका के पुनः मूल्यांकन की मांग कर रहे हैं लेकिन उनकी मांग पूरी नहीं हुई है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अगर ऐसे छात्र-छात्राओं को न्याय नहीं मिला तो भारत परिषद आन्दोलन करने को मजबूर होगी। इस अवसर पर शनि ठाकुर ,विककी ठाकुर, जेपी यादव ,कार्तिकेय त्रिवेदी,गौरव शुक्ला आदि मौजूद रहे.


Leave a Reply