शराब की दुकानें खुली : चार मई को कोरोना के मिले अबतक के सबसे अधिक मरीज और 175 लोगों की मौत

भारत में 4 मई का दिन अब तक का सबसे खतरनाक रहा है. पिछले 7 दिनों से लगातार कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. इसी बीच शराब की दुकानें भी खुल गई है. जिससे घरों में रहने वाले लोग परेशान हो रहे हैं. 28 अप्रैल से 4 मई तक भारत में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. साथ ही साथ मरने वालों की संख्या और तेजी से बढ़ रहे हैं. मई का महीना ज्यादा दुखद दिखने लगा है. 

0
724
corona india
भारत में कोरोना की स्थिति.

भारत में 4 मई का दिन अब तक का सबसे खतरनाक रहा है. पिछले 7 दिनों से लगातार कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. इसी बीच शराब की दुकानें भी खुल गई है. जिससे घरों में रहने वाले लोग परेशान हो रहे हैं. 28 अप्रैल से 4 मई तक भारत में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. साथ ही साथ मरने वालों की संख्या और तेजी से बढ़ रहे हैं. मई का महीना ज्यादा दुखद दिखने लगा है.

कोरोना असर : राजस्थान के गुलाबी पर्यटन में अपने लाएँगे ‘बहार’, सरकार कर रही बड़ी तैयारी

28 अप्रैल से 4 मई तक का सफर

भारत में मार्च और अप्रैल का महीना कोरोना के हिसाब से ठीक चल रह था. लेकिन जैसे ही मई का महीना शुरू हुआ कि खतरा बढने लगा. 28 अप्रैल को 1,873 नए केस मिले और 69 की मौत हुई. 29 अप्रैल को 1,738 केस मिले और 71 की मौत हुई. 30 अप्रैल 1,801 केस मिले है और 75 लोगों की मौत हो चुकी है. एक मई को 2,394 केस मिल चुके हैं. जिनमें से 69 मौत हुई है. दो मई 2,442 नए केस मिले और 100 लोगों की मौत हो गई है. 3 मई को 2,806 केस मिले है. 68 लोगों की मौत हो चुकी है. 4 मई को 3,932 केस मिले और 175 लोगों की मौत हो गई.

ग्रामीण क्षेत्र में हर व्यक्ति को रोजगार की गारंटी दी जाये : अरुणा रॉय

भारत में राज्यों की ये है स्थिति

भारत में कोरोना 46433 के मिल चुके हैं. 12727 लोगों को डिस्चार्ज किये गए हैं. 1568 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र में अबतक कुल 14541 लोग पाए गए हैं. 2465 लोगों को ठीक किया जा चुका है. 583 लोगों की मौत हो चुकी है. गुजरात में 5804 केस मिल चुके है, जिनमें से 1195 लोगों को ठीक हो चुके हैं. और 319 लोगों की मौत हो चुकी है.

ग्राम पंचायतों पर गठित कोर ग्रुप में सरपंचों की घोर उपेक्षा करना गैर प्रजातांत्रिक : राजेन्द्र राठौड़

इन राज्य में नहीं हुई एक भी मौत

अंडमान निकोबार में एक भी मौत नहीं हुई है. अरुणाचल प्रदेश, छतीसगढ़, गोवा, लदाख, मणिपुर, मिजोरम, पुद्देचेरी, त्रिपुरा में एक भी मौत नहीं है. हालांकि, इन राज्यों में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिल रहे थे. यहाँ की सरकारों ने बेहतर काम किया है.

CORONA UPDATE : प्रयोगशाला सहायकों को अतिशीघ्र नियुक्ति दें सरकार : राजेन्द्र राठौड़

 


Leave a Reply