देश के ऊर्जा मंत्री इसलिए नहीं जला पाए एक भी दीपक और मोमबत्ती

ऊर्जा मंत्री राज कुमार सिंह और उर्जा सचिव एसएन सहाई के साथ अपने कार्यालय में राष्ट्रीय ऊर्जा निगरानी केंद्र में ग्रिड की निगरानी में लगे थे.

0
876
आरके सिंह ऊर्जा मंत्री
ऊर्जा मंत्री राज कुमार सिंह और उर्जा सचिव एसएन सहाई के साथ अपने कार्यालय में राष्ट्रीय ऊर्जा निगरानी केंद्र में बैठे है..

5 अप्रैल को 09 बजे 09 मिनट के लिए पूरे भारत के लोग अपने घर की बिजली बंद करके घर के सामने दीपक और मोमबत्ती जला रहे थे. तो उस समय देश के ऊर्जामंत्री आरके सिंह कहां थे? उन्होंने कोई दीपक नहीं जलाया. उन्होंने न तो मोमबत्ती जलाई. इतना ही नहीं वो उस समय अपने परिवार के साथ भी नहीं थे. जानिए वो कहाँ पर थे और क्या कर रह थे? उन्होंने इसकी जानकारी खुद दी है और फोटो भी शेयर किया है.

वो अपने काम पर थे

जिस समय सभी लोग अपने घर की बिजली बंद करके बालकनी या बाहर दीपक जला रहे थे तो उस समय देश के ऊर्जा मंत्री राज कुमार सिंह और उर्जा सचिव एसएन सहाई के साथ अपने कार्यालय में राष्ट्रीय ऊर्जा निगरानी केंद्र में ग्रिड की निगरानी में लगे थे. क्योकि ऐसी आशंका जताई जा रही थी कोई परेशानी हो सकती है. उन्होंने कहा कि मेरे परिवार ने इस दीप दिवस को मनाया है. उन्होंने बताया कि आपूर्ति ग्रिड पर कुछ मिनट के लिए 32000 MW पर आ गई थी. लेकिन फ्रीक्वेंसी और वोल्टेज सामान्य था.

भारत से लेकर आस्ट्रेलिया तक ऐसे मनाई गई 9 मिनट की ‘दिवाली’

सेना ने कश्मीर घाटी में 9 आतंकवादियों को मारा, अब रात में देश के लिए 9 मिनट हमे दिखाना है

3 अप्रैल को पीएम ने की थी अपील

‘इस कोरोना संकट से जो अंधकार और अनिश्चितता पैदा हुई है, उसे समाप्त करके हमें उजाले और निश्चितता की तरफ बढ़ना है। इस अंधकारमय कोरोना संकट को पराजित करने के लिए, हमें प्रकाश के तेज को चारो दिशाओं में फैलाना है: और इसलिए, इस Sunday, 5 अप्रैल को, हम सबको मिलकर, कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसे प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है। इस 5 अप्रैल को हमें, 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है: 130 करोड़ देशवासियों के महासंकल्प को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है। 5 अप्रैल, रविवार को रात 9 बजे मैं आप सबके 9 मिनट चाहता हूं। ध्यान से सुनिएगा, 5 अप्रैल को रात 9 बजे: घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं’.


Leave a Reply