Home जनसरोकार RAJASTHAN का 'राजा' : 98 साल का पूर्व विधायक 300 परिवार को...

RAJASTHAN का ‘राजा’ : 98 साल का पूर्व विधायक 300 परिवार को रोज करा रहा भोजन


कोरोना का असर पूरी दुनिया में है. राजस्थान में भी कुल 200 केस मिले है. यहाँ भी एक मौत कोरोना से हो भी चुकी है. लगभग स्थिति परेशानी वाली है. ऐसे में कुछ लोग भोजन के लिए जरुरतमंद हैं. उन्हें भोजन चाहिए. ऐसे में सीकर जिले के पूर्व कांग्रेसी विधायक रणमल सिंह पूरी तरह से 300 परिवारों के भोजन की व्यवस्था में लगे हैं. इनका मकसद बस मानव सेवा है. कटराथल ग्राम के 300 परिवारों को भोजन करायेंगे. रणमल पहले से ही दानी रहे हैं. इनके जेहन में शुरू से दान करने और लोगों की सेवा की भावना रही रही है.

बधिर दिव्यांगजनों को सूचनाएं देने और संवाद के लिए हेल्पलाइन बनाने की जरूरत

1962 में पत्नी के गहने बेचकर पैसा किया था डोनेट

वर्ष 1962 में जब भारत और चीन के बीच लड़ाई हो गई थी. उस समय रणमल सिंह ने घर में रखे अपने पत्नी के गहने बेच कर पीएम राहत कोष में दान कर दिया था. इन्होने उस समय से ही देश और मानव सेवा का संकल्प लिया था. आर्मी में जवान के पद पर तैनात थे. इन्हें जो पेंशन मिलती है उसे भी लोगों की सेवा में खर्च कर देते हैं. मानव सेवा ही इनके जीवन का ध्येय है.

Maharashtra : गजब फंसे CM उद्धव ठाकरे, जा सकती है कुर्सी !

कौन हैं रणमल सिंह

पूर्व प्रधान पं.स पिपराली, पूर्व विधायक 1977 सीकर से रहे है। सहकारी बैंक ,भूमि विकास बैंक के चैयरमेन रहे है तथा कृषि उपज मण्डी सीकर के अध्यक्ष भी रहे। कटराथल ग्राम पंचायत में कई बार सरपंच पद पर भी चुने गये है। अपना सम्पूर्ण जीवन ईमानदारी से गरीबों, महिला शिक्षा, सामाजिक संगठनों में समाज सेवा में लगा दिया। 98 वर्ष की उम्र में भी अपने निजी सभी कार्य स्वयं करते हैं।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के कहने पर कन्हैया कुमार ने पीएम केयर फंड में दिया 501 रुपया

40 वर्षों से लगातार पूर्व विधायक व पूर्व सैनिक पेंशन राशि गरीबों की भलाई व समाज सेवा में खर्च कर रहे है। कटराथल ग्राम के समस्त निवासी ह्रदय से इनका सम्मान करते हैं। कटराथल ग्राम में जरूरतमदों को इनकी पेंशन राशि 55,000 रुपये तथा पारिवारिक सहयोग से घर का जरूरी सामान लगभग 300 परिवारों को वितरित किया जायेगा।


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

कांग्रेस ने अनेकों घोटाले कर भारत के हित और साख को गिराया : डॉ. सतीश पूनियां

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत को आर्थिक उन्नति के साथ आत्मनिर्भर बना रहे, श्री मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व...

गरीबों को न्याय दिलाने सड़क पर उतरे पुष्पेंद्र भारद्वाज, मंत्री से की मुलाकात

न्यू सांगानेर रोड को 200 फीट चौड़ा नहीं करने के लिए दिया ज्ञापन न्यू सांगानेर रोड व्यापार...

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...