Home अंदर की बात FILM CITY : लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने 20 बिंदुओं...

FILM CITY : लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने 20 बिंदुओं पर की चर्चा

  • संगीत नाटक अकादमी में लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने की बैठक
  • फ़िल्म बंधु विभाग व फ़िल्म सिटी से संबंधित अधिकारियों से मिलने की इच्छा जताई

पोल टॉक नेटवर्क | लखनऊ

उत्तर प्रदेश में बनने जा रही है फ़िल्म सिटी व फ़िल्म नीति के संबंध में रविवार को लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने ‘निसर्ग’ संस्था के सौजन्य से संगीत नाटक अकादमी में बैठक की। जिसमें सभी ने संयुक्त रूप से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया कि उनके प्रयासों से उत्तर प्रदेश में लगातार फिल्मों की शूटिंग हो रही है. जिस वजह से स्थानीय कलाकारों को भी रोज़गार मिल रहा है।

तो क्या फिल्मसिटी के लिए UP के कुछ नामचीन कलाकारों को नजरअंदाज कर रही योगी सरकार !

बनने जा रही है फ़िल्म सिटी व फ़िल्म नीति में मुम्बई के फ़िल्म निर्देशकों व निर्माताओं के सुझावों के साथ साथ उत्तर प्रदेश के स्थानीय कलाकारों के सुझावों पर भी ध्यान दिया जाये ताकि भविष्य में उत्तर प्रदेश से कलाकारों का पलायन रुक सके, लेकिन ये तभी संभव होगा जब यहाँ के कलाकारों को भी मुम्बई के कलाकारों जैसी सुविधायें, फीस व अधिकार मिलें। करीब तीन घन्टे चली इस बैठक में मुख्यतः 20 बिंदुओं पर चर्चा हुई।

इस चर्चा से मिलें सुझावों को आधार बनाकर सभी कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने फ़िल्म बंधु विभाग व फ़िल्म सिटी से संबंधित अधिकारियों से मिलने की इच्छा जताई। लखनऊ के कलाकार डॉ अनिल रस्तोगी, ललित पोखरिया, नवल शुक्ला, नरेंद्र पंजवानी, मंजू गुप्ता, राकेश पांडेय, रेहान किदवई, संदीप यादव, वरुण टम्टा, राखी किशोर, प्रीती चौहान, पुनीता अवस्थी, तूलिका बनर्जी, अर्पित मिश्रा, अम्बुज रस्तोगी, अजय सिंह, महेश देवा, अविनाश शुक्ला, अमलेश जायसवाल, बृज भूषण तथा कास्टिंग डायरेक्टर विवेक यादव, मो. सैफ, पंकज चौहान, समायर सिंह, विशाल आनंद, अविनाश गुप्ता, मानसी पांडेय समेत लखनऊ के कई युवा कलाकार उपस्थित रहे।

जो कलाकार उपस्थित नहीं हो सकें उन्होंने ऑनलाइन अपने सुझाव दिए। सभी के सुझावों को शामिल करके जल्दी ही अगली मीटिंग फ़िल्म बंधु विभाग के साथ करने का प्रस्ताव भी रखा गया।

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisement -

Must Read

संस्मरण : मुख्यमंत्री बनने के बाद भी कुछ ऐसे थे कर्पूरी ठाकुर

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपना संस्मरण किया साझा  कर्पूरी ठाकुर के जन्मदिन पर...

राजस्थान भाजपा में ‘राज’ के लिए ‘राजे’ की बढ़ी सक्रियता, पूनियां की धड़कन तेज

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की बढ़ी परेशानी, मिला है बड़ा टारगेट  चार विधान सभा सीटों पर होना है...

पत्रकारों पर रिसर्च : गंभीर बीमारियों की गिरफ्त में श्रमजीवी पत्रकार

डॉ. अनवर खान ने श्रमजीवी पत्रकारों के स्वास्थ्य संबंधित बीमारियां पर किया शोध अध्ययन पोल टॉक नेटवर्क | भोपाल  देश के अधिकांश...

दृष्टिकोण : जैक मा मुद्दे पर भारत उठाए मौके का लाभ

भारत को विश्वभर से निवेश करने और उद्यमियों की सुरक्षा को लेकर ऐलान करना चाहिए चीन...

लखनऊ में राष्ट्रीय राष्ट्रवादी के नेतृत्व में शुरू हुआ अनोखा सत्याग्रह

गरीबों के नाम पर चट कर गए पैसा, स्कूल अस्पताल के लिए गहरू कांशीराम कालोनी में हुई डीएम-सीएम की पूजा  ...
- Advertisement -