UPSC Result: UPSC Exam के बाद कैसे तय होती है IAS, IPS और IFS रैंक? जाने UPSC में कितनी सर्विसेज

0
83
How to become IAS, IPS, IFS officers

  • UPSC परीक्षा पास होकर बनते हैं IAS, IPS और IFS 
  • कैसे किया जाता है IAS, IPS और IFS

पोलटॉक नेटवर्क | नई दिल्ली /आदित्य कुमार  

संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सर्विसेज परीक्षा के नतीजे (UPSC Civil Services Exam Result) जारी कर दिए हैं। यूपीएससी सिविल सर्विस रिजल्ट 2021 फाइनल में कुल 685 अभ्यर्थियों का अंतिम रूप से चयन किया गया है।  इन कैंडिडेट्स में से आईएएस, आईपीएस, आईएफएस (IAS, IPS Difference) आदि पदों पर नियुक्ति दी जाएगी। UPSC 2021 के नतीजों में टॉप 3 में लड़कियों ने अपनी जगह बनाई है। पहले स्थान पर श्रुति शर्मा वहीँ अंकिता अग्रवाल से दूसरा स्थान हासिल किया है जबकि गामिनी सिंगला ने देश भर में तीसरी रैंक हासिल की है।

कैसे बनते हैं IAS, IPS, IFS अधिकारी

संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) यानी UPSC की परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक परीक्षा है। देश में हर साल लाखों छात्र यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) देते हैं,किन्तु इनमें से बहुत से कम परीक्षार्थियों को UPSC Exam में सफलता प्राप्त होती है। UPSC Exam को पास करने के बाद ही आईएएस, आईपीएस, आईईएस या आईएफएस अधिकारी पर चयन होता है। आयोये जानते हैं कि UPSC Exam को पास करने के बाद IAS, IPS या IFS अधिकारी कैसे बनते हैं ?

कैसे होती है UPSC परीक्षा ?

UPSC की परीक्षा के लिए सरकार की ओर से कुछ पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी होता है और उसके बाद चयन की प्रक्रिया शुरु होती है। UPSC की परीक्षा तीन चरणों में में होती है। UPSC की परीक्षा में सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा (UPSC Preliminary Exam) होती है, जिसमें पास होने वाले परीक्षार्थी मुख्य यानी मेंस परीक्षा (UPSC Mains Exam) में भाग लेते हैं। मेंस परीक्षा पास होने वाले उम्मीदवारों का इंटरव्यू (UPSC Interview) होता है और इंटरव्यू में पास होने के बाद उम्मीदवार UPSC की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेता है। इंटरव्यू में चयन होने वाले उम्मीदवार फिर आईएएस, आईपीएस की रेस में हिस्सा लेते हैं।

UPSC में हैं कुल 24 सर्विसेज

UPSC में 24 सर्विसेसज होती हैं, जिसके लिए कैंडीडेट का चयन इस परीक्षा के आधार पर होता है। इसके बाद इन्हें दो वर्गों में बांटा जाता है, पहली ऑल इंडिया सर्विसेज और दूसरी सेंट्रल सर्विसेज (Central Services) हैं। सेंट्रल सर्विस के तहत ग्रुप ए और ग्रुप बी सर्विस होती हैं।

ऑल इंडिया सर्विसेज

ऑल इंडिया सर्विसेज (All India Services) के तहत भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के अधिकारियों का चयन होता है। इस कैटेगिरी में चुने गए अधिकारीयों को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों का कैडर दिया जाता है।

UPSC सेंट्रल सर्विसेज

केंद्रीय सेवाओं के तहत ग्रुप ए और ग्रुप बी सर्विस शामिल हैं।  ग्रुप ए सर्विस के तहत भारतीय विदेश सेवा (IFS), इंडियन सिविल एकाउंट्स सर्विस, इंडियन रिवेन्यू सर्विस (IRS), इंडियन रेलवे सर्विस (IRTS और IRPS) और इंडियन इन्फार्मेशन सर्विस (IIS) के लिए अधिकारियों का चयन होता है। जबकि ग्रुप बी में आर्म्ड फोर्सेज हेडक्वार्टर्स सिविल सर्विस, पुडुचेरी सिविल सर्विस, दिल्ली और अंडमान निकोबार आइलैंड सिविल के साथ पुलिस सर्विस जैसी सर्विस भी शामिल हैं।


Leave a Reply