Home अंदर की बात भारत के इन राज्यों में नहीं है कोरोना का कोई असर, जानिये...

भारत के इन राज्यों में नहीं है कोरोना का कोई असर, जानिये पूरी कहानी


corona virus image.

दुनिया में कोरोना को लेकर बहुत हलचल मची है. वहीँ भारत में इसको लेकर भी बवाल मचा हुआ है. आइये जानते है कि भारत में कौन-कौन से राज्य हैं. जहां पर एक भी केस नहीं मिला है. पढ़िए पोलटॉक की ये खास रिपोर्ट.

तिब्बत से सटा है मगर एक भी केस नहीं है

अरुणाचल प्रदेश में एक भी केस कोरोना के नहीं मिले हैं. जबकि ये राज्य उत्तर में तिब्बत के करीब है. भौगोलिक दृष्टि से पूर्वोत्तर के राज्यों में यह सबसे बड़ा राज्य है. अर्थव्यवस्था मुख्यत: कृषि प्रधान है। ‘झुम’ खेती जो आदिवासी समूहों में पहले प्रचलित थी, अब कम लोग इस प्रकार खेती करते हैं। अरुणाचल प्रदेश का लगभग 61000 वर्ग किलोमीटर का भाग घने जंगलों से भरा है और वन्य उत्पाद राज्य की अर्थव्यवस्था का दूसरा महत्त्वपूर्ण भाग है। यहाँ पर एक भी केस कोरोना के नहीं मिले है.

इन राज्यों में नहीं मिले एक केस

असम की 03 करोड़ और झारखंड की आबादी 03 करोड़ से अधिक आबादी है. मेघालय में 25 लाख से अधिक् जनसँख्या है.
नागालैंड की आबादी 22 से अधिक है. वहीँ सिक्किम की आबादी 06 लाख है. पश्चिम बंगाल से सटे सिक्किम ने जहां विदेशी पर्यटकों के राज्य में प्रवेश पर पाबंदी लगा दी है, वहीं हिमालय की गोद में बसे पर्वतीय देश भूटान ने भी दो सप्ताह के लिए तमाम विदेशी पर्यटकों के आने पर रोक लगा दी है. सैलानियों पर लगी इस पाबंदी से पर्यटन उद्योग की कमर टूटने का अंदेशा जताया जा रहा है. हर साल लाखों लोग इन दोनों खूबसूरत जगहों पर घूमने जाते हैं. सिक्किम में हालांकि अब तक कोरोना का कोई मरीज नहीं मिला है. लेकिन सरकार ने एहितयात के तौर पर विदेशी पर्यटकों पर पाबंदी लगा दी है. वहीं त्रिपुरा में 36 आबादी है. मगर सुखद खबर यह है की यहाँ पर एक भी केस नहीं मिले हैं.

पोल टॉक की ख़ास पेशकश.

इन राज्यों में मिले हैं कोरोना के केस

आंध्र प्रदेश 14 केस मिले और एक केस ठीक हुआ, बिहार में कुल 09 , अंडमान निकोबार द्वीप समूह में कुल 09, चंडीगढ़ 08, छत्तीसगढ़ में 06, दिल्ली में 38, गोवा में ०२, गुजरात में 52, हरियाणा में 19, हिमाचल प्रदेश 03, जम्मू कश्मीर 31, कर्नाटक 76, केरल 174, लद्दाक 13, मध्यप्रदेश 30, महाराष्ट्र 183, मणिपुर 01, मिजोरम 01, ओडिशा 03, पुद्दुचेरी 01, पंजाब 38, राजस्थान 52, तमिलनाडू 36, तेलंगाना 56, उत्तराखंड 05, उत्तरप्रदेश 54, पश्चिमबंगाल 17 केस मिले है.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

कांग्रेस ने अनेकों घोटाले कर भारत के हित और साख को गिराया : डॉ. सतीश पूनियां

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत को आर्थिक उन्नति के साथ आत्मनिर्भर बना रहे, श्री मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व...

गरीबों को न्याय दिलाने सड़क पर उतरे पुष्पेंद्र भारद्वाज, मंत्री से की मुलाकात

न्यू सांगानेर रोड को 200 फीट चौड़ा नहीं करने के लिए दिया ज्ञापन न्यू सांगानेर रोड व्यापार...

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...