जलमहल पर उतरा कश्मीर, नजर आया डल झील का नजारा

जयपुर के जलमहल में पक्षियों का कलरव और उस पर कश्मीर की कशिश। यूं लगा जैसे पूरा डल झील का किनारा ही पाल पर उतार आया हो। हवा में वही शोखी

0
322
jammu kashmir artist
jammu kashmir artist

  • जम्मू—कश्मीर के कलाकारों ने एक के एक बाद एक प्रस्तुति दी 
  • आकाश डोगरा द्वारा की गई सांस्कृतिक प्रस्तुति और विरासत का खूब आनंद लिया

पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर

जयपुर के जलमहल में पक्षियों का कलरव और उस पर कश्मीर की कशिश। यूं लगा जैसे पूरा डल झील का किनारा ही पाल पर उतार आया हो। हवा में वही शोखी और सांस्कृतिक विरासत की थाप पर जब जम्मू—कश्मीर ( jammu kashmir artist ) के कलाकारों ने एक के एक बाद एक प्रस्तुति दी तो पर्यटकों की आंखे भी थिरक उठी।

पहले डोगरी नृत्य का दम और फिर कश्मीर की रिवायतों को समेट हुए सांस्कृतिक साज ने फिजा में भारत की एकता और अखंडता की खुशबू बेखरती हुए दिखाई दी। इस मौके पर पर्यटकों का जम्मू—कश्मीर में चल रहे तमाम नयनाभिराम पर्यटन स्थलों, खेलों और सांस्कृतिक विरासत की संपूर्ण जानकारी दी। सांस्कृतिक कार्यक्रम की एक प्रस्तुति जंतर—मंतर के पास भी हुई। ​इसमें आकाश डोगरा द्वारा की गई सांस्कृतिक प्रस्तुति और विरासत का खूब आनंद लिया।

जम्मू—कश्मीर से आए सुरनसर मानसर विकास प्राधिकरण के सीईओ डॉ.गुरविंदरजीत सिंह ने इस मौके पर कहा कि जम्मू—कश्मीर अध्यात्म और पर्यटन का सबसे खुबसूरत जगह हैं। यूं नहीं इस जगह को दुनिया का स्वर्ग कहा जाता है। जम्मू कटरा पर्यटन कल्याण संस्था के अध्यक्ष रमन शर्मा ने कहा कि जम्मू—कश्मीर की ​जो स्थिति दिखाई जाती है,वैसी नहीं है। ऐसे दिखने के लिए एक बार आपको कश्मीर आना होगा। आप आइए हम आपका दिल खोलकर इस्तकबाल करने के लिए ​तैयार हैं।


Leave a Reply