Home अंदर की बात फैक्ट चेक : वो ज्योति कुमारी पासवान 'साइकिल गर्ल ' नहीं कोई...

फैक्ट चेक : वो ज्योति कुमारी पासवान ‘साइकिल गर्ल ‘ नहीं कोई और ज्योति है


  • वो दरभंगा की ही दूसरी ज्योति कुमारी है
  • जिसकी बुधवार को बिजली के करंट से मौत हो गई 

संतोष कुमार पाण्डेय | सम्पादक

कई दिनों से सोशल मीडिया पर बिहार की साइकिल गर्ल ज्योति कुमारी पासवान (jyoti kumari paswan ) से जोडकर पोस्ट शेयर हो रही है. लोग ज्योति कुमारी के लिए न्याय की बात तक लिख रहे हैं. इससे जुड़े सैकड़ों लोगों के फोन किया और सोशल मीडिया की पोस्ट पोल टॉक को भेजा है. जिसे देखने के बाद मुझे लगा (पोलटॉक) की इसकी  सच्चाई सामने लाइ जाय. इसके लिए पोलटॉक ने अपनी टीम को लगा दिया. दरभंगा में इसकी पूरी तहकीकात की गई और सच्चाई सामने आई. जिस ज्योति पासवान की बात लोग सोशल मीडिया पर कर रहे हैं वो ज्योति कुमारी ‘साईकिल गर्ल’ नहीं है. वो दरभंगा की ही दूसरी ज्योति कुमारी है. जिसकी बिजली के करंट से मौत हो गई है.

ज्सोयोति कुमारी के लिए शल मीडिया पर लिखी गई पोस्ट |
ज्योति कुमारी के लिए सोशल मीडिया पर लिखी गई पोस्ट |

ये है मामला

दरअसल, दरभंगा जिले के हायाघाट प्रखंड के पतोर ओपी क्षेत्र में बुधवार की सुबह एक 15 वर्षीय लड़की का शव मिला था. जिससे क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गई थी. और उस लड़की का नाम ज्योति कुमारी पासवान था. लेकिन लोगों ने बहुत हंगामा हुआ. लेकिन जब पीएम (पोस्टमार्टम) रिपोर्ट आई तो उसमें बिजली के करंट से मरने की पुष्टि हुई है. अब मामला शांत है.

ज्सोयोति कुमारी के लिए शल मीडिया पर लिखी गई पोस्ट |
ज्योति कुमारी के लिए सोशल मीडिया पर लिखी गई पोस्ट |

इस मामले को लेकर लोग बिना तहकीकात किये ही सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखने लगे. एक फेसबुक पेज से 150 लोगों ने इस पोस्ट को शेहर भी किया है. ज्योति कुमारी ‘ साईकिल गर्ल ‘ से जोड़कर सोशल मीडिया पर चर्चा करने लगे. पोलटॉक ने पूरी सच्चाई सामने रख दी है. इस मामले में सीपीआईएम की 5 सदस्य टीम पतोर गांव पहुंची. सीपीएम जिला सचिव अविनाश कुमार ठाकुर, एसएफआई जिला संयोजक नीरज कुमार ने गुरुवार को घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जानकारी लिया और पीड़ित के परिवार से मिले।

सोहाल
सोशल मीडिया पर लिखी गई पोस्ट |

पोल टॉक की अपील : दोस्तों बिना सही जानकारी के कुछ भी शेयर न करें और न ही उसे लिखे पढ़े. इससे बड़ा नुकसान हो जाता है. एक नाम कई के हो सकते हैं. इसलिए बिना समझे और कहीं पढ़े उसे आगे न बढाए. सोशल मीडिया ज्यादा पॉवर फुलहोता  है. उसका दुरपयोग न करें . धन्यवाद . 


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...

YOUTH कांग्रेस कमेटी का विस्तार, आयुष भारद्वाज बने पहले संगठन महासचिव

युवा कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी का किया गया विस्तार राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अनुमति से हुआ...

“जन सहायता दिवस” के रूप में मनाया गया राहुल गाँधी का जन्मदिन

राजस्थान के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर एवं राशन किट वितरण कार्यक्रम 1500 यूनिट रक्त एकत्रित...