Karnataka : शाही अंदाज में हुई पूर्व पीएम के पोते की शादी, कोरोना से मरने वाले की लिस्ट में कर्नाटक 8वें स्थान पर

पूरी दुनिया कोरोना से परेशान है. मगर कर्नाटक में लाक डाउन की धज्जियां उड़ा दी गई है. पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा के पोते की शादी बेंगलुरु के रामनगर में बड़े ही शाही अंदाज में की है. जहां पर पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा, पूर्व सीएम एचडी स्वामी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा भी मौजूद रहे.

0
1100
karnatak cm
कर्नाटक में पूर्व सीएम के बेटे की हुई धूमधाम से शादी .

पूरी दुनिया कोरोना से परेशान है. मगर कर्नाटक में लाक डाउन की धज्जियां उड़ा दी गई है. पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा के पोते की शादी बेंगलुरु के रामनगर में बड़े ही शाही अंदाज में की है. जहां पर पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा, पूर्व सीएम एचडी स्वामी मौजूद रहे. जबकि कर्नाटक में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिल रहे हैं. भारत में कोरोना से मरने वालों की लिस्ट में कर्नाटक आठवें स्थान पर है. फिर भी सोशल गैपिंग का कोई ध्यान नहीं दिया गया. कुछ दिन पहले कर्नाटक के एक भाजपा विधायक ने भी अपना धूमधाम से जन्मदिन मनाया था.

Karnataka
कर्नाटक में पूर्व सीएम के बेटे की हुई धूमधाम से शादी .

वहीँ जब कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और निखिल कुमार स्वामी के पिता एचडी कुमारस्वामी से इस बारे में सवाल हुआ था तो उन्होंने कहा था कि शादी को लेकर उनके पास सभी तरह की परमिशन हैं. इसके अलावा डॉक्टरों से भी कई तरह की सलाह ली गई हैं. निखिल कुमारस्वामी की शादी हुई. बेंगलुरु के रामनगर में बड़े शाही तरीके से निखिल की शादी हुई, जहां पर मीडिया के जाने की भी पाबंदी की गई थी.

यूपी के CM YOGI ने 20 अप्रैल से यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा और कृषि पर लिया बड़ा निर्णय

कर्नाटक में कोरोना का बुरा हाल

कर्नाटक की पूरी आबादी 6 करोड़ से ज्यादा है. मगर कोरोना का बड़ा असर यहां पर है. अभी तक यहाँ पर 300 से अधिक लोगों को कोरोना हो चुका है. वहीँ 82 लोग ठीक हो चुके हैं. जबकि 13 लोगों की मौत हो चुकी है. जो भारत में आठवाँ स्थान है. कोरोना का बड़ा असर है मगर यहाँ पर मनमानी का दौर चल रहा है.

LOCKDOWN : मध्यमवर्गीय परिवार के लिए सरकार कुछ नहीं कर रही, सबको साथ लेकर चले : सुरेन्द्र राजपूत

Karnataka
कर्नाटक में पूर्व सीएम के बेटे की हुई धूमधाम से शादी .

पोल टॉक का बड़ा सवाल !

जब पूरी दुनिया में कोरोना को लेकर डर है तो ऐसे में कोरोना का असर कर्नाटक में कम है क्या ? रिपोर्ट की माने तो कर्नाटक में भी इसका असर है. मगर इस शादी समारोह से क्या सन्देश दिया गया है. समाज में इसका असर अच्छा नहीं पड़ेगा. सवाल है की क्या ऐसे आयोजनों को अनुमति मिलनी चाहिए ? क्या देश और समाज से आगे है? मगर इनसे सवाल कौन करें ? इनपर कार्रवाई कौन करें ? यह सब यक्ष प्रश्न है ?

…तो क्या अमेरिका के ये तीन बड़े शहर अप्रैल में हो जायेंगे ख़त्म ?


Leave a Reply