Home अंदर की बात राजस्थान भाजपा की नई 'दीया', कुमारी को लगातार मिल रहा प्रमोशन

राजस्थान भाजपा की नई ‘दीया’, कुमारी को लगातार मिल रहा प्रमोशन


  • राजस्थान की पहली महिला मुख्यमंत्री है वसुंधरा राजे सिंधिया
  • भाजपा सांसद दिया कुमारी को भाजपा ने बनाया गया प्रदेश महामंत्री

संतोष कुमार पाण्डेय | सम्पादक

राजस्थान में इनदिनों भाजपा विपक्ष में है. लेकिन सत्ता पक्ष पर संकट के बादल मंडरा रहे है. इसीबीच पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया चर्चा में आ गई है. उन्हें सफाई तक देना पड़ा कि वो 30 साल से भाजपा में निष्ठावान कार्यकर्ता के रूप में काम कर रही है. लेकिन अब नई कहानी सामने है. राजस्थान भाजपा ने एक अगस्त को अपनी कार्यकारणी घोषित कर दिया. जिसमें राजसमंद से भाजपा सांसद दिया कुमारी का नाम चर्चा में है. जयपुर से दिल्ली की दूरी भले अधिक न हो लेकिन इस समय राजस्थान की राजनीति लम्बी हो गई है. लगातार इनका प्रमोशन होता जा रहा है.

दिया कुमारी, भाजपा सांसद, राजसमंद
दिया कुमारी, भाजपा सांसद, राजसमंद.

राजनीति के जानकार कह रहे है कि दिया कुमारी के हाथ भविष्य में कमान देने की तैयारी है. जिस तरीके से उनका नाम भाजपा की प्रदेश नेताओ की लिस्ट में नाम है. उससे तो यह अंदाजा लगाया जा रहा है मगर जानकार यह भी कह रहे है कि दिया कुमारी के लिए पहले से ही तैयारी हो रही है. उन्होंने भी यह साबित किया है. दो बार से लगातार चुनाव जीत रही है. अलग अलग सीटो से उन्होंने विधान सभा और लोकसभा का चुनाव जीता है. पहली बार राजस्थान भाजपा में किसी महिला को महामंत्री बनाया गया है.

सरकार के पास बहुमत होता तो होटल में तमाशा नहीं होता : सतीश पूनियां

चार नाम में एक महिला

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने एक अगस्त को प्रदेश भाजपा कार्यकारणी की घोषणा कर दी है. जिनमें 8 प्रदेश उपाध्यक्ष और चार महामंत्री के नाम है. महामंत्री में दिया कुमारी अकेले महिला है. पहली बार दिया कुमारी को संगठन में बड़ी जिम्मेदारी मिली है. यही बात तय कर रहा है कि अब आगे चलकर दिया कुमारी को बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है.

भाजपा द्वारा जारी की गई लिस्ट.
भाजपा द्वारा जारी की गई लिस्ट.

वर्ष 2013 में भाजपा में हुईं थी शामिल

महज 7 साल में दिया कुमारी ने भाजपा में अपनी जगह बना लिया. पहले विधायक और अब सांसद हैं. विधान सभा का चुनाव इन्होने सवाई माधोपुर से जीता था. जहां से इन्होने बड़े मतों के अंतर से चुनाव जीत लिया था. हालांकि, वसुंधरा कैबिनेट में इन्हें जगह नहीं मिली. लेकिन ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ की राजस्थान की ब्रांड अम्बेसडर बनाई गई थीं.

कांग्रेस विधायकों को जैसलमेर किया जायेगा शिफ्ट, चार्टर प्लेन से होंगे रवाना , दो रिसॉर्ट बुक !

राजे से हुआ था तनाव

भाजपा की सरकार थी इसी बीच दिया कुमारी और वसुंधरा में ठन गई. दिया की मां ने इसके खिलाफ जयपुर में आन्दोलन चलाया था. किसी तरीके से मामला शांत हुआ था. तभी से दिया कुमारी चर्चा में है. और अब नई जिम्मेदारी भविष्य के लिए संकेत कर रही है.

RAJASTHAN के विस अध्यक्ष सीपी जोशी का BJP ने माँगा इस्तीफा

लाखों वोटों से मिली जीत

वसुन्धरा भी पहली बार सांसद बनीं थी. 5 बार सांसद रहने के बाद उन्होंने 2003 में विधान सभा का चुनाव लड़ा था. और उसी बार उन्हें राजस्थान का सीएम बना दिया गया था. मगर दिया कुमारी इस बार लोकसभा के चुनाव में 5,51,916 वोटों से इन्हें जीत मिली थी.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

चौधरी साहब ताउम्र ग़रीबों, किसानों, नौजवानों और वंचितों की आवाज़ बने रहे : यज्ञेन्दु

चौधरी अजीत के बेटे जयंत ने दी सोशल मीडिया से जानकारी देश भर के नेताओं ने भावभीनी...

वैक्सीनेशन के पश्चात् मिलने वाले सर्टिफिकेट पर पीएम की फोटो नहीं लगाने वाला बयान अत्यन्त शर्मनाक : राजेन्द्र राठौड़

राजस्थान में ऑक्सीजन का कोटा 100 मीट्रिक टन बढ़ाकर 280 मीट्रिक टन से 380 मीट्रिक टन किया है ...

प्रदेश युवा कांग्रेस ने “सेवा दिवस” के रुप में मनाया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जन्मदिन

प्रदेश के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर, फल, भोजन, मास्क एवं सैनिटाइजर वितरण कार्यक्रम पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर  राजस्थान...

केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही सहायता से गहलोत सरकार जनता को दे राहत : सांसद रामचरण बोहरा

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से की मुलाकात कोरोना आपदा प्रबंधन, रेमेडिसिवर...

कोरोना मरीजों और उनके परिजनों के लिए प्रदेश युवा कांग्रेस ने शुरू की ‘जनता रसोई’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा "कोई भूका ना सोए" को आगे बढ़ाते हुए को खाना उपलब्ध करवाने का लिया संकल्प पोल...