Home अंदर की बात कमलनाथ और दिग्विजय सिंह का यह दांव सफल नहीं हुआ, शिवराज ने...

कमलनाथ और दिग्विजय सिंह का यह दांव सफल नहीं हुआ, शिवराज ने मारी बाजी !


कमलनाथ , मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश .

मध्यप्रदेश में कमलनाथ की सरकार अब नहीं बचेगी. सरकार के पास बहुमत पास करने के लिए संख्या बहुत कम है. और शिवराज सिंह चौहान ने बाजी मार ली है. आइये आपको जरा उन बातों पर ले चलता हूँ जहां कमलनाथ सरकार बचाने के लिए प्रयास कर रहे थे. उन बिन्दुओं का विश्लेषण जरूरी है. आखिर समय में कमलनाथ ने जो दांव खेला क्या सफल हुये या हारने के बाद दांव चल रहे थे.

सरकार बचाने के लिए खूब समय मिला !

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जब बगावत की थी तो उस समय कमलनाथ ने सरकार बचाने के लिए क्या किया. जबकि उनके पास ख़ूब समय था. जब कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट के लिए 16 मार्च को विधान सभा में पेश होना हुआ तो वो इसमें बाजी मार गए. कमलनाथ सरकार पूरी तरह से यहाँ सेफ हो गई. मगर यह दांव भी फेल गया.

देर से मंत्री लगे मिशन पर

जीतू पटवारी और अन्य नेताओ को देर से विधायकों को मनाने के लिए लगाया गया. जो दांव भी कमलनाथ का फेल हुआ. अगर थोड़ा पहले यह काम होता तो शायद कमलनाथ को सफलता मिल पाती. वहीँ सूत्रों की माने तो यह दांव दिग्विजय सिंह के द्वारा खेला गया था.

तीन जिले बनाने का निर्णय भी फेल !

भाजपा के विधायको को तोड़ने का प्रयास हुआ है. इसी कड़ी में उन्होंने तीन जिले बना दिया मगर सफलता नहीं मिली. भाजपा के दो विधायक कमलनाथ सरकार के साथ देखे गए. मगर अब वो भी बाजी बदलते हुए नजर आ रहे है. नारायण त्रिपाठी और कोल दोनों विधायकों ने कमलनाथ को खूब छकाया.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

चौधरी साहब ताउम्र ग़रीबों, किसानों, नौजवानों और वंचितों की आवाज़ बने रहे : यज्ञेन्दु

चौधरी अजीत के बेटे जयंत ने दी सोशल मीडिया से जानकारी देश भर के नेताओं ने भावभीनी...

वैक्सीनेशन के पश्चात् मिलने वाले सर्टिफिकेट पर पीएम की फोटो नहीं लगाने वाला बयान अत्यन्त शर्मनाक : राजेन्द्र राठौड़

राजस्थान में ऑक्सीजन का कोटा 100 मीट्रिक टन बढ़ाकर 280 मीट्रिक टन से 380 मीट्रिक टन किया है ...

प्रदेश युवा कांग्रेस ने “सेवा दिवस” के रुप में मनाया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जन्मदिन

प्रदेश के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर, फल, भोजन, मास्क एवं सैनिटाइजर वितरण कार्यक्रम पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर  राजस्थान...

केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही सहायता से गहलोत सरकार जनता को दे राहत : सांसद रामचरण बोहरा

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से की मुलाकात कोरोना आपदा प्रबंधन, रेमेडिसिवर...

कोरोना मरीजों और उनके परिजनों के लिए प्रदेश युवा कांग्रेस ने शुरू की ‘जनता रसोई’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा "कोई भूका ना सोए" को आगे बढ़ाते हुए को खाना उपलब्ध करवाने का लिया संकल्प पोल...