Home अंदर की बात कमलनाथ की इस बड़ी चाल में उलझ गए शिव के गणेश और...

कमलनाथ की इस बड़ी चाल में उलझ गए शिव के गणेश और नारायण !


मध्य प्रदेश में जो हो रहा है उसे सभी देख रहे हैं. लेकिन जो पर्दे के पीछे के खिलाड़ी हैं शायद उन्हें कम देखा जा रहा है. पोलटॉक की स्पेशल स्टोरी को जरुर पढ़े. जो आपको पूरी तस्वीर साफ़ कर देगी. मंगलवार को कमलनाथ सरकार ने कैबिनेट बैठक में मैहर, चाचौड़ा और नागदा को नया जिला बनाए जाने की मंजूरी दी है. मध्य प्रदेश में अब 55 जिले हो गए. जिले बढ़ गए मगर इससे भाजपा में राजनीति तेज हो गई है.

शिवराज सिंह चौहान के सामने एक बैठक में बात करते हुए विधायक नारायण त्रिपाठी.

मैहर (mahior) जिले को लेकर काफी चर्चा है. दरअसल, सतना (satna) जिले में मैहर विधान सभा सीट आती है. जहाँ से 4 बार से लगातार विधायक हैं नारायण त्रिपाठी. जो पहली बार सपा, दूसरी बार कांग्रेस, तीसरी और चौथी बार भाजपा से विधायक हैं. इनकी स्थिति हर चुनाव में बदली सी नजर आती है. लेकिन इनके लिए राजनीतिक तौर पर एक ही चुनौती हैं गणेश सिंह. गणेश सिंह पटेल सतना से 4 बार से लगातार भाजपा के सांसद हैं. नारायण और गणेश में अक्सर चुनावी मुद्दे को लेकर राजनीतिक तनाव बना रहता है.

सांसद गणेश सिंह द्वारा लिखा गया पत्र.

जब कमलनाथ की सरकार कमजोर दिखी तो नारायण त्रिपाठी अचानक से कमलनाथ सरकार की ओर जाते हुये दिखे ! उन्होंने मैहर तहसील को कई बार जिला बनाने की बात उठाई थी. मौक़ा पर चौका लगाते हुए कमलनाथ सरकार ने मैहर को जिला बना दिया है. इस फैसले से विधायक नारायण त्रिपाठी ख़ुशी दिखा रहे हैं और कमलनाथ सरकार को शुक्रिया कह रहे. मगर वहीँ सतना जिले के भाजपा के दिग्गज सांसद गणेश सिंह पटेल ने खुशी तो जताई है लेकिन कई सारे सवाल भी खड़ा कर दिया है. जिसकी वजह से अब विधायक समर्थक और सांसद समर्थक अपनी अपनी बातें कर रहे हैं.

खेत में भाजपा सांसद गणेश सिंह और साथ में लोग.

बताया जा रहा है कि इसका असर भाजपा पर पड़ सकता है. कमलनाथ ने मैहर जिले को लेकर मास्टर कार्ड खेल दिया है. अब देखने वाली बात है की कौन किसके साथ खड़ा होगा. लेकिन सतना भाजपा में बिखराव भी दिखने लगा है. मगर यह मैहर के लिए अच्छी खबर है. विधायक नारायण त्रिपाठी हमेशा चर्चा में बने रहते हैं.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

शिक्षा में है बड़ी ताकत, यहीं से खुलते हैं सफलता के द्वार : सीए मुकेश

सीए बनने के लिए 6 बार असफल हुए राजपूत ने नहीं छोड़ी हिम्मत दिल्ली में सम्मानित...

उत्तराखंड के त्रिवेन्द्र रावत भाजपा के लिए हैं बड़े ‘खिलाड़ी’

त्रिवेंद्र सिंह रावत उत्तराखंड के कृषिमंत्री भी रहे चार साल से पहले ही उन्हें पद से हटा...

कांग्रेस से बाहर होते होते ज्योतिरादित्य ने कांग्रेस की सरकार ही गिरा दी

19 साल तक कांग्रेस में और अब भाजपा में चले गये  बड़ी जिम्मेदारी दोनों जगह नहीं मिल...

राजनीति में चमकते हुए आगे बढ़े जितिन प्रसाद

जितिन प्रसाद यूपीए सरकार में केंद्रीय राज्य मंत्री भी बनाए गए भारतीय युवा कांग्रेस के सचिव के...

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी में सिमरन व जोया ने मचाया धमाल

फ्रेशर्स पार्टी में स्टूडेंट्स ने लगाए ठुमके, यूजी में मिस फ्रेशर नैना और रितिक मिस्टर फ्रेशर पीजी में...