Home अंदर की बात तबलीगी के समर्थन में आये ओवैसी और राहुल गाँधी, कन्हैया, स्वरा, अखिलेश...

तबलीगी के समर्थन में आये ओवैसी और राहुल गाँधी, कन्हैया, स्वरा, अखिलेश ने कुछ नहीं बोला


कोरोना (corona virus) को लेकर जहां पूरी दुनिया लड़ रही है. वहीं भारत में नया मोड़ आ गया है. क्योंकि पिछले दिनों निज़ामुद्दीन के आलमी मरकज़ में 36 घंटे का सघन अभियान चलाकर सुबह चार बजे पूरी बिल्डिंग को ख़ाली कराया गया. जिसमें कुल 2361 लोग थे. इसमें से 617 को hospitals में और बाक़ी को quarantine में भर्ती कराया गया. इसी के बाद से यहाँ का माहौल बदल सा गया. आइये जानते हैं कि तबलीगी जमात पर सांसद असदुद्दीन ओवैसी, सांसद राहुल गाँधी, कन्हैया कुमार, स्वरा भास्करा, पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने क्या कहा है. पढ़िए पोलटॉक की ये ख़ास रिपोर्ट.

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी

पत्रकारों पर भड़के ओवैसी

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी तबलीगी जमात मामले पर भड़क गये हैं. उन्होंने कहा कि मीडिया वालों को शर्म नहीं आती. ऐसे लोग पत्रकारिता के नाम पर धब्बा है. ये लोग दूसरों को जोड़ने की जगह मजहब की बात कर रहे हैं. पूरी दुनिया एक है मगर भारतीय मीडिया तोड़ने का काम कर रही है. संसद चल रही है. दिल्ली में उत्तरप्रदेश के मजदूर पेशा के लोग भीड़ में गये कोई कुछ नहीं बोलता. भारत बंद शाम को ख़त्म हुआ फिर लोग सडक पर उतर गये. तो उसकी चिंता नहीं है. बस केवल पूरी तबलीगी जमात को दोषी बना देना ठीक नही है. कोरोना के लिए इस्लाम को दोषी बना देंगे. जो इटली में हो रहा है क्या वहां फुटबाल मैच से हुआ है. तेलंगाना के सीएम परेशान हैं. उन्होंने मुझे फोन करके बताया है. ओवेसी ने कहा कि मीडिया के लोग गलत कह रहे हैं.

उमर अब्दुल्लाह ने भी किया समर्थन

जम्मू और कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्लाह.

जम्मू और कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्लाह ने कई सारे बातें कही है. उन्होंने सीधे तो कुछ नहीं बोला है लेकिन तबलीगी जमात का समर्थन किया है.

कुछ नहीं बोले ये नेता और अभिनेत्री

कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गाँधी .

कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गाँधी ने तबलीगी जमात पर कुछ नहीं बोला है. उन्होंने कोई ट्वीट नहीं किया है . यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने भी कोई ट्वीट नहीं किया है. फिल्म अभिनेत्री और कई मुद्दों पर बोलनेवाले स्वरा भास्करा भी अभी कोई बात या बयान नहीं दिया है. जबकि वो अन्य मुद्दों पर ट्वीट भी कर रही है और बोल भी रही है.

कन्हैया कुमार ने कुछ नहीं बोला

जवाहरलाल नेहरु विश्ववविद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार.

जवाहरलाल नेहरु विश्ववविद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रहे कन्हैया कुमार ने तबलीगी जमात पर कुछ नहीं बोला है. 28 मार्च को इन्होने बस यही ट्वीट किया है. जो इस प्रकार है.’ लॉक-डाउन में फँसे मजदूरों व ज़रूरतमंदों की मदद के लिए एक आवाज़ पर तुरंत आगे आने वाले सभी साथियों का बहुत-बहुत आभार! दोस्तों मानवता के लिए यह कठिन समय है। अपनी सुरक्षा और सरकारी निर्देशों का पालन करते हुए हर वक़्त हम सभी युवा साथीयों को हर चुनौती से जूझने के लिए तैयार रहना है।’


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

चौधरी साहब ताउम्र ग़रीबों, किसानों, नौजवानों और वंचितों की आवाज़ बने रहे : यज्ञेन्दु

चौधरी अजीत के बेटे जयंत ने दी सोशल मीडिया से जानकारी देश भर के नेताओं ने भावभीनी...

वैक्सीनेशन के पश्चात् मिलने वाले सर्टिफिकेट पर पीएम की फोटो नहीं लगाने वाला बयान अत्यन्त शर्मनाक : राजेन्द्र राठौड़

राजस्थान में ऑक्सीजन का कोटा 100 मीट्रिक टन बढ़ाकर 280 मीट्रिक टन से 380 मीट्रिक टन किया है ...

प्रदेश युवा कांग्रेस ने “सेवा दिवस” के रुप में मनाया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जन्मदिन

प्रदेश के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर, फल, भोजन, मास्क एवं सैनिटाइजर वितरण कार्यक्रम पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर  राजस्थान...

केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही सहायता से गहलोत सरकार जनता को दे राहत : सांसद रामचरण बोहरा

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से की मुलाकात कोरोना आपदा प्रबंधन, रेमेडिसिवर...

कोरोना मरीजों और उनके परिजनों के लिए प्रदेश युवा कांग्रेस ने शुरू की ‘जनता रसोई’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा "कोई भूका ना सोए" को आगे बढ़ाते हुए को खाना उपलब्ध करवाने का लिया संकल्प पोल...