क्या सपा को छोड़ेंगे आजम खान ? ओवैसी की पार्टी ने पत्र लिखकर पार्टी में शामिल होने का दिया न्यौता

0
90

समाजवादी पार्टी से नाराज बताये जा रहे आजम खान को असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमी ने पात्र लिखा है। AIMIM ने आजम खान को पत्र लिखकर उन्हें पार्टी में शामिल होने का आग्रह किया है। AIMIM की तरफ से सीतापुर जेल में बंद आजम खान को पत्र ऐसे समय में लिखा गया है जब हाल में ही आजम खान के मीडिया प्रभारी फसाहत अली शानू ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर आजम खान को पार्टी से किनारे लगा देने का आरोप लगाया था।

AIMIM प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद फरहान की ओर से यह पत्र लिखा गया। बताया जा रहा है कि पत्र में लिखा गया है कि जब आप (आजम खान) मेदांता अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे थे तो पूरा देश आपकी सलामती का दुआ कर रहा था। AIMIM की ओर से लिखे गए पत्र में सपा अध्यक्ष अखिलेश पर आरोप लगते हुए लिखा गया कि आपके सकुशल सीतापुर जेल लौटने पर सभी जगह से लोग आपसे मिलने गए, लेकिन अखिलेश यादव ने आपसे मिलना जरूरी नहीं समझा। पत्र में लिखा है कि 26 महीने से आप जेल में जिंदगी गुजार रहे हैं जिसका दर्द पूरे मुस्लिम समाज को है, लेकिन अखिलेश यादव या यादव परिवार या पूरी समाजवादी पार्टी को इस बात का ना तो जरा भी दर्द है और न ही अफसोस है।

अखिलेश यादव नहीं चाहते आजम जेल से बाहर आएं 

AIMIM प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद फरहान ने पत्र में आगे लिखा कि उत्तर प्रदेश की जनता और मुस्लिम समाज को अब पूरा यकीन हो गया है कि अखिलेश यादव नहीं चाहते हैं कि अब आप कभी जेल से बाहर आएं। अगर इनका बस चलता तो आप और आपके परिवार के लोगों की हत्या भी करवा देते, मगर इनके बस में नहीं था।

मोहम्मद फरहान ने पत्र में लिखा कि अखिलेश यादव ने इतना भी नहीं सोचा कि आपने पार्टी के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया। पूरा परिवार जेल में रहा। एक समय तो ऐसा भी आया जब आप ने अपनी जान तक पार्टी के लिए दांव पर लगा दी। यदि आपको अखिलेश यादव नेता विरोधी दल बनाते तो आप पर कोई एहसान न करते।

सपा एहसान फरामोस है 

आजम खान को लिखे गए पत्र में समाजवादी पार्टी पर आरोप लगाते हुए लिखा गया कि आपने (आजम खान ) तो समाजवादी पार्टी बनाई है। अखिलेश यादव और उनके पिता को मुलायम सिंह यादव को पांच बार मुख्यमंत्री बनाया, लेकिन ये लोग एहसान फरामोस हैं। इनके दिल में न तो आप के लिए कोई हमदर्दी है और न कोई मोहब्बत। ये आपको केवल मुस्लिम वोट बैंक का साधन मात्र समझते हैं। भविष्य में भी अखिलेश यादव और न ही समाजवादी पार्टी आपके लिए और न ही मुस्लिम समाज के लिए कभी हितकारी होगी।

AIMIM में शामिल होने का न्यौता 

आजम खान को लिखे गए पत्र के अनुसार, ‘अखिलेश यादव ने 2022 के विधानसभा चुनावों में आपकी (आजम) फोटो लगाकर मुसलमानों से वोट तो लिए लेकिन जब आपको विपक्ष का नेता बनाने की बात आई तो इन्होंने मुंह फेर लिया।’ वहीं AIMIM प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद फरहान ने पत्र के माध्यम से आजम खान को AIMIM पार्टी ज्वाइन करने का न्यौता भी दिया है। पत्र में लिखा गया कि आपसे एमआईएम में शामिल होने अनुरोध है जिससे उत्तर प्रदेश से भाजपा और सपा को खत्म किया जा सके।


Leave a Reply