पालघर में हुई मॉब लिंचिंग के विरुद्ध लखनऊ में उपवास और दी गई श्रद्धांजलि

1
856
सुरेन्द्र राजपूत
सुरेन्द्र राजपूत, कांग्रेस, राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट.

लखनऊ : लखनऊ में लोगों ने लॉक डाउन की मर्यादा बनाए रखते हुए, अपने अपने घरों में उपवास किया। यह उपवास विगत दिनों पालघर, महाराष्ट्र में दो साधुओं समेत तीन लोगों की मॉब लिंचिंग के विरोध में है। हम सब इस निर्मम हत्या से स्तब्ध हैं और इसकी कड़ी भत्सर्ना करते हैं। अपने-अपने घरों में सभी उपवास पर बैठे संवेदनशील लोगों ने एक साथ अपील किया कि “मॉब लिंचिंग के विरुद्ध हम सब एक हैं”

पालघर : मारने वालों में 9 बच्चे भी शामिल, कुल 110 लोग हिरासत में, गृह मंत्री ने बताया था 101 !

हम सब मॉब लिंचिंग के विरुद्ध एक है 

उपवास खत्म करके शाम को मोमबत्ती जलाकर हम लोगों ने आत्माओं को श्रद्धांजलि दी। इस मुश्किल घड़ी में हम लोग कहना चाहते हैं कि देश के कोने कोने से लोग इस उपवास का समर्थन करते हुए कह रहे हैं कि हम सब मॉब लिंचिंग के विरुद्ध एक हैं । इस उपवास के माध्यम से हम सरकार से अपील करते हैं कि बहुत जल्दी ही मॉब लिंचिंग पर कठोर कानून बनाए ताकि अपराधी अपने किये अपराध की कठोर सजा पाएँ। यह कानून बनाने की पूर्व में सुप्रीम कोर्ट भी माँग कर चुका है। अब जितनी भी कानून बनाने में देर होगी, उसका नुकसान हम सबको होगा, इसलिए जल्द से जल्द सरकार इस कानून को बनाए और प्रभावी रूप से लागू करे।

पालघर : 101 लोगों को पुलिस ने लिया हिरासत में, गृह मंत्री ने दिए जाँच के आदेश

घरों में एकांत में बैठे और प्रार्थना और श्रद्धांजलि

आजके इस उपवास में अपने अपने घरों में एकांत में बैठे और प्रार्थना और श्रद्धांजलि में बहुत से ज़िम्मेदार लोगों में एक्टिविस्ट रामकिशोर जी, राजनेता सुरेंद्र राजपूत, वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता राजनाथ शर्मा, थियेटर आर्टिस्ट राकेश पांडे, लेखक हफ़ीज़ क़िदवई, एक्टिविस्ट पवन यादव, पटेश्वरी प्रसाद, वीरेंद्र त्रिपाठी, केके शुक्ला, हसीब खान, रज़ि उल अस्करी, आशीष आदि शामिल हुए। उपवास को राही मासूम रज़ा एकेडमी, खुदाई ख़िदमतगार, लखनऊ कल्चर सोसायटी, गाँधी समारोह ट्रस्ट, बाराबंकी, एस्ट्रल एजुकेशनल सोसायटी समेत कई संगठनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने समर्थन किया.

पालघर : जूना अखाड़े ने CM योगी से लगाई न्याय की गुहार, शिवसेना के हैं MP और MLA , नहीं आया बयान !


1 COMMENT

Leave a Reply