सीकर के कटराथल के लोगों का आरोप -पंचायत चुनाव में अधिक शराब पिलाने से युवक की मौत 

राजस्थान में सरपंच (sarpanch) और पंच (panch) के लिए चुनाव हुए हैं. इसी कड़ी में सीकर जिले के कटराथल ग्राम पंचायत में 28 सितम्बर को चुनाव हुआ है. उसमें भाग लेने से पहले ही 23 सितम्बर को गाँव के ही मनोज (37) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

0
648
कटराथल गाँव की तस्वीर .
कटराथल गाँव की तस्वीर .

  • 28 सितम्बर को हुआ सरपंच का चुनाव, 23 सितम्बर को हुई थी मनोज की मौत
  • मानवाधिकार कार्यकर्ता अखिल चौधरी ने डीएम को लिखा पत्र, न्याय की मांग 

पोल टॉक नेटवर्क | सीकर 

गाँव के लोगों का कहना है कि वह 28 सितंबर 2020 को होने वाले पंचायत चुनावों में मतदाताओं की चाहत रखने वाले सरपंच उम्मीदवार द्वारा शराब परोसने के बाद घर लौटे थे। इसके बाद ही घटना घटने की बात सामने आई थी. जिसको लेकर पूरी गाँव में इस बात की चर्चा है.

किसान हितैषी विधेयक को लेकर कांग्रेस किसानों को बरगलाने का जो कुत्सित प्रयास कर रही : राजेन्द्र राठौड़

मनोज की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी. इसलिए लोगों का आरोप है कि उसे अधिक मात्रा में शराब पिलाई गई थी. गाँव कटराथल में सरपंच के पद के लिए चल रहे लगभग हर व्यक्ति ने मतदाताओं को लालच पहुंचाने के लिए शराब कपड़े नगद बर्तनों का वितरण किया है जो चुनाव नियमों के विरुद्ध है। वास्तव में दादिया पुलिस स्टेशन जिसके अंतर्गत गाँव कटराथल पड़ता है, ने ऐसी गैरकानूनी गतिविधियों में भाग लेते लोगों को पकड़ा है। पुलिस ने इस बारे में कोई मामला दर्ज किया है या नहीं यह पुलिस के अलावा कोई नहीं जानता है.

BIHAR CHUNAV 2020 : GROUND REPORT-बेनीपट्टी में बदला-बदला सा है चुनावी समीकरण

इस बात का खुलासा तब हुआ जब 26 सितंबर को वकील और मानवाधिकार कार्यकर्ता अखिल चौधरी ने उन परिवारों से मुलाकात की. उन्होंने कटराथल पहुंचकर इन सभी बातो को जाना और पूरी तहकीकात किया. अखिल चौधरी ने तुरंत जिलाधिकारी/जिला रिटर्निंग अधिकारी को पत्र लिखा और जांच का अनुरोध किया है. ताकि न्याय किया जा सके. इस बात को लेकर गाँव में नाराजगी है. लोगों की डीएम से न्याय की उम्मीद है.

बिग एक्सक्लूसिव : झालावाड़ में अधिकारियों की मिलीभगत से अपनी ही जमीन से दूर ‘गौरी’, सालों से हो रहा परेशान


Leave a Reply