पुष्पेंद्र भारद्वाज की मेहनत लाई रंग, 76 फैक्ट्रियों के बिजली कनेक्शन नहीं कटेंगे

सांगानेर की पहचान छपाई उद्योग को बचाने के लिए राज्य सरकार और पुष्पेंद्र भारद्वाज के प्रति सभी ने आभार प्रकट किया है।

0
91
मंत्री शकुंतला रावत से मुलाकात करते पुष्पेंद्र भारद्वाज |
मंत्री शकुंतला रावत से मुलाकात करते पुष्पेंद्र भारद्वाज |

  • मंत्री शकुंतला रावत से मिले सांगानेर छपाई उद्योग के लोग
  • राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल ने जारी किया था आदेश

पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर

विश्व प्रसिद्ध सांगानेरी छपाई इंडस्ट्री पर सालो से चली आ रही प्रदूषण की समस्या को लेकर एक बार फिर क्षेत्र की 76 फैक्ट्रियों के बिजली कनेक्शन काटने के आदेश राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल ने जारी कर दिए। इस आदेश के बाद एक बार फिर उद्योग में चिंता पसर गई। सांगानेर एनविरो प्रोजेक्ट डेवलपमेंट द्वारा भारत सरकार, राज्य सरकार और उद्योग से जुड़े लोगो की मदद से करीब 150 करोड़ लागत का सीईटीपी प्लांट भी स्थापित कर लिया गया है जिसका फरवरी 2018 में तत्कालीन वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा उद्घाटन भी कर दिया गया था।

राज्य सरकार ने अपने हिस्से की 25% राशि पूरी दे दी, वही उद्योग द्वारा भी अपने हिस्से की 25% राशि से करीब 8 करोड़ ज्यादा दिए जा चुके है किंतु भारत सरकार के हिस्से के करीब 30 करोड़ रूपए का भुगतान अभी तक नही आ पाया जिसकी वजह से ठेकेदार का पेमेंट थोड़ा लेट हुआ और उसने काम बीच में अधूरा छोड़ दिया और प्लांट आज तक चालू नही हो पाया। उद्योग से जुड़े लोगो को बार बार क्लोजर नोटिस मिलने पर बहुत मानसिक और आर्थिक तकलीफ उठानी पड़ती है। इस समस्या के स्थाई समाधान के लिए सांगानेर के पुष्पेन्द्र भारद्वाज (pushpendra-bhardwaj-sanganer) के नेतृत्व में उद्योग से जुड़े प्रवीण शाह, ओम दुसाद, दीपक शर्मा, तेजप्रकाश छिपा ओर घनश्याम कूलवाल ने राज्य की उद्योग मंत्री शकुंतला रावत से उद्योग भवन में मुलाकात की ओर अपनी समस्या बताई।

पुष्पेंद्र भारद्वाज (pushpendra-bhardwaj-sanganer) के आग्रह पर मंत्री शकुंतला रावत  ने तत्काल अधिकारियों को निर्देश दिया की फिलहाल किसी फैक्ट्री का कनेक्शन नहीं काटा जाए और तुरंत सभी संबंधित अधिकारियों की मीटिंग करके समस्या का स्थाई समाधान किया जाए और बंद पड़े सीईटीपी प्लांट को जल्द से जल्द चालू करवाया जाए ताकि प्रदूषण भी खत्म हो ओर लाखों लोगों के रोजगार से भी कोई खिलवाड़ न हो। सांगानेर की पहचान छपाई उद्योग को बचाने के लिए राज्य सरकार और पुष्पेंद्र भारद्वाज के प्रति सभी ने आभार प्रकट किया है।


Leave a Reply