Home अंदर की बात जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों में हार के बाद ASHOK GEHLOT...

जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों में हार के बाद ASHOK GEHLOT ने बताई बड़ी बातें ! क्या है सरकार की प्राथमिकता !

  • जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों में हार के बाद cm गहलोत का आया बयान
  • गहलोत ने बताया क्यों हुई हार, अब ऐसे करेंगे बेहतर सुधार 
संतोष कुमार पाण्डेय | जयपुर 
राजस्थान में जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों में हार के बाद कांग्रेस में खलबली मची है. वहीँ भाजपा की तरफ जश्न का माहौल है. लेकिन कांग्रेस अपने गढ़ में खुद चुनाव हार गई है. वहीँ कांग्रेस की हार के बाद पहली बार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फेसबुक पर एक लम्बा पोस्ट लिखा है. जिसमें उन्होंने हार की समीक्षा की और सुधार की बात कही है. पढिये अशोक गहलोत ने क्या लिखा है !

प्राथमिकता लोगों का जीवन और आजीविका बचाना
जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों के नतीजे हमारी आशा के अनुकूल नहीं रहे हैं। पिछले 9 महीने में हमारी सरकार कोविड-19 की रोकथाम के लिये मेहनत कर रही है। हमारी प्राथमिकता लोगों का जीवन और आजीविका बचाना रहा है। हमने राज्य के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया। लॉकडाउन के समय मजदूरों और प्रवासियों को सुविधापूर्वक उनके घर पहुंचाया। लोगों को आर्थिक मदद दी और राशन उपलब्ध कराया। मनरेगा के जरिये गांवों में रोजगार के मौके बढ़ाये। प्रदेश में किसी को भूखा नहीं सोने दिया गया और इलाज के अभाव में किसी की मौत नहीं होने दी।

गहलोत सरकार हॉर्स ट्रेडिंग में खुद लगी है और विपक्ष पर लगा रही झूठा आरोप : राजेन्द्र राठौड़
नये सिरे से फीडबैक लेकर जनता तक अपने सुशासन को पहुंचायेंगे
हमारा पूरा ध्यान कोरोना महामारी पर रहा जिसके चलते हम अपनी योजनाओं और सरकार के कार्यों का अच्छे से प्रचार नहीं कर सके। वहीं विपक्ष के नेताओं ने ग्रामीण क्षेत्रों में दौरे कर भ्रामक प्रचार कर मतदाताओं को भ्रमित किया। आने वाले समय में हम नये सिरे से फीडबैक लेकर जनता तक अपने सुशासन को पहुंचायेंगे और विपक्ष के दुष्प्रचार का करारा जवाब देंगे। मैं सभी मतदाताओं एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करता हूं, जिन्होंने इस चुनाव में भाग लेकर लोकतंत्र को मजबूत किया। मैं सभी विजयी उम्मीदवारों को बधाई देता हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि सभी जनप्रतिनिधि जनसेवा में सफल होंगे।

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisement -

Must Read

संस्मरण : मुख्यमंत्री बनने के बाद भी कुछ ऐसे थे कर्पूरी ठाकुर

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपना संस्मरण किया साझा  कर्पूरी ठाकुर के जन्मदिन पर...

राजस्थान भाजपा में ‘राज’ के लिए ‘राजे’ की बढ़ी सक्रियता, पूनियां की धड़कन तेज

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की बढ़ी परेशानी, मिला है बड़ा टारगेट  चार विधान सभा सीटों पर होना है...

पत्रकारों पर रिसर्च : गंभीर बीमारियों की गिरफ्त में श्रमजीवी पत्रकार

डॉ. अनवर खान ने श्रमजीवी पत्रकारों के स्वास्थ्य संबंधित बीमारियां पर किया शोध अध्ययन पोल टॉक नेटवर्क | भोपाल  देश के अधिकांश...

दृष्टिकोण : जैक मा मुद्दे पर भारत उठाए मौके का लाभ

भारत को विश्वभर से निवेश करने और उद्यमियों की सुरक्षा को लेकर ऐलान करना चाहिए चीन...

लखनऊ में राष्ट्रीय राष्ट्रवादी के नेतृत्व में शुरू हुआ अनोखा सत्याग्रह

गरीबों के नाम पर चट कर गए पैसा, स्कूल अस्पताल के लिए गहरू कांशीराम कालोनी में हुई डीएम-सीएम की पूजा  ...
- Advertisement -