Home अंदर की बात कोविड से मृतक परिजनों को 2 लाख रुपये तक क्लेम दिलाने की...

कोविड से मृतक परिजनों को 2 लाख रुपये तक क्लेम दिलाने की मुहीम शुरू


  • राष्ट्रीय राष्ट्रवादी पार्टी नें शुरू किया निःशुल्क क्लेम पोर्टल, परिजन भरें फार्म
  • अबतक ऐसी नहीं की थी किसी ने पहल, लाखों लोगों को मिलेगा लाभ 

पोल टॉक नेटवर्क | लखनऊ

जिनकी कोविड (corona virus) से मृत्यु हुई है, उन्हें राष्ट्रिय राष्ट्रवादी पार्टी (RRP) “कोविड शहीद” मानती है. कोविड से जंग लड़कर शहीद होने वाले 70 वर्ष की आयु वाले मृतकों के परिजनों को राष्ट्रिय राष्ट्रवादी पार्टी (RRP) 2 लाख रुपये तक क्लेम दिलाएगी जिसके लिए निःशुल्क पोर्टल आज शुरू कर दिया गया . क्लेम के लिए www.rrp.org वेबसाईट पर जाकर निःशुल्क “कोविड शहीद फार्म” भरना होगा और RT-PCR रिपोर्ट तथा मृत्यु सर्टीफिकेट अपलोड करना होगा. तत्पश्चात राष्ट्रिय राष्ट्रवादी पार्टी (RRP) टीम संपर्क करके क्लेम दिलाने की कार्यवाही करेगी.

प्रेस वार्ता में राष्ट्रिय राष्ट्रवादी पार्टी (RRP) अध्यक्ष प्रताप चन्द्रा ने कहा कि इस आफतकाल में मृतक परिजनों को न्याय दिलाना, मदद करना हम सबकी ड्यूटी है, जिसे मानवता के ज्यादा से ज्यादा परिजनों तक इस मदद की सूचना देने और क्लेम फ़ार्म भरवाने में मदद करनी चाहिए जिसमें मीडिया की प्रमुख भूमिका है.

अध्यक्ष प्रताप चन्द्रा ने बताया कि देश भर में लाखों लोग शहीद हुए हैं जिनके परिजनों को 2 लाख रुपये तक का क्लेम दिलाकर बड़ी मदद हो सकती है, उन्होंने कहा कि सर्वविदित है कि देश में लगभग सभी वयस्कों का बैंक खाता है, सभी बचत खातों और जनधन खातों से प्रत्येक वर्ष की 25 मई को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत २ लाख रूपये के कवरेज हेतु अनिवार्य रूप से 12 रुपये काटे जाते हैं, परन्तु अधिकतर लोगों को मालूम नहीं लेकिन इस कोविड महामारी में इसका लाभ पीड़ितों को दिलाया जा सकता है.

कोविड एक महामारी है, इसलिए कोविड से होने वाली मृत्यु “एक्सीडेंटल डेथ” मानी जाएगी, नार्मल डेथ नहीं क्यूंकि ये दैवी आपदा या मृतक द्वारा अंगीकृत/पाली गई बिमारी से मृत्यु नहीं हुई बल्कि बाहर से हिट करने की वजह से मृत्यु हुई है जो बीमा के एक्सीडेंटल डेथ की परिभाषा के अनुसार है.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

कांग्रेस ने अनेकों घोटाले कर भारत के हित और साख को गिराया : डॉ. सतीश पूनियां

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत को आर्थिक उन्नति के साथ आत्मनिर्भर बना रहे, श्री मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व...

गरीबों को न्याय दिलाने सड़क पर उतरे पुष्पेंद्र भारद्वाज, मंत्री से की मुलाकात

न्यू सांगानेर रोड को 200 फीट चौड़ा नहीं करने के लिए दिया ज्ञापन न्यू सांगानेर रोड व्यापार...

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...