Nav Sankalp Chintan Shivir-2022 Udaipur: अशोक गहलोत ने कहा-हमारी ये है बड़ी कमजोरी, भाजपा…

भाजपा (Rajasthan Udaipur politics) के बारे में कहते हुए हमला बोला कि ये इतने झूठे और फरेबी लोग हैं कि काम कुछ भी नहीं करते है लेकिन और गुजरात मॉडल की बात करेंगे।

0
18
'नव संकल्प चिंतन शिविर - 2022' उदयपुर में पहुंचे राहुल गाँधी |
'नव संकल्प चिंतन शिविर - 2022' उदयपुर में पहुंचे राहुल गाँधी |

  • कांग्रेस के नव चिंतन शिविर में बोले सीएम गहलोत
  • सोनिया गाँधी और यूपीए सरकार के कामों को गिनाया

संतोष कुमार पांडेय | जयपुर

राजस्थान के उदयपुर में शुरू हुई तीन दिवसीय ‘नव संकल्प चिंतन शिविर’ (sankalp-Chintan-Shivir-2022 Udaipur) के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM ASHOK GEHLOT ) ने भाजपा (BJP) पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहाँ कि हमारी बड़ी कमजोरी ये है कि हम काम करते हैं लेकिन गिनाते नहीं है. और भाजपा (Rajasthan Udaipur politics) के बारे में कहते हुए हमला बोला कि ये इतने झूठे और फरेबी लोग हैं कि काम कुछ भी नहीं करते है लेकिन और गुजरात मॉडल की बात करेंगे।

यूपीए सरकार में किये गए कार्यों को गहलोत ने गिनाया। गहलोत ने कहा कि देश में एक नई राजनीति की ओर जा रही है. हमारे वक्त में कांग्रेस का नेतृत्व लोगों की चिंता करते थे. जहां-जहां चुनाव आते हैं वहां वहां भाजपा के लोग टारगेट बना लेते हैं. भाजपा के लोग फासिस्टवादी हैं. देश के अंदर तनाव का माहौल है. गहलोत (Rahul Gandhi Ashok Gahlot in congress chinatn shivir) ने मंच से खुलकर भाजपा पर हमला बोला है.

वहीँ कांग्रेस के दिग्गज नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि- हमारे संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। हम एक तरफ आजादी की 75 वीं सालगिरह मना रहे हैं और दूसरी तरफ संविधान के तहत काम करने में मोदी जी और भाजपा और जो भी उनके मित्र या उनके सहयोगी हैं। वह उसमें विश्वास नहीं रखते हैं कि संविधान के तहत चलें।

राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अजय माकन ने कहा-कांग्रेस पार्टी का संगठन है, जिसमें नीचे से ऊपर तक के स्तर पर एक बहुत बड़ा बदलाव आप देख सकेंगे। हम लोगों का यह मानना है कि बदलते समय के साथ जो संगठन का ढांचा कांग्रेस पार्टी का है, वह नहीं बदला है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला ने कहा कि-जनता की क्या समस्याएं हैं, चाहे वो महंगाई से जुड़ी हों, किसानों से जुड़ी हों, बेरोजगारी से जुड़ी हों या आम आदमी से जुड़ी हों। इन सभी को लेकर चिंतन शिविर में विचार किया जाएगा। हम यहां से एक नई उर्जा, एक नई शक्ति, एक नया संकल्प लेकर जाएंगे।


Leave a Reply