अखिलेश यादव से नाराजगी के बीच शिवपाल यादव ने आजम खान से जेल में की मुलाकात

0
72
shivpal yadav azam khan akhilesh yadav

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के बाद से लगातार समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव से नाराज चल रहे चाचा शिवपाल सिंह यादव शुक्रवार को सीतापुर जेल पहुंच गए। शिवपाल यादव ने सीतापुर जेल में ढाई साल से बंद रामपुर से समाजवादी पार्टी के विधायक आजम खान से मुलाकात की। बता दें चुनाव के बाद से आजम खान भी अखिलेश यादव से नाराज बताए जा रहे हैं।

शुक्रवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सीतापुर जेल पहुंचकर आजम खान से मुलाकात की है। शिवपाल सिंह यादव और आजम खान की इस मुलाकात की टाइमिंग को लेकर चर्चा शुरू हो गई है क्योंकि अखिलेश यादव से आजम खान का खेमा चुनाव के बाद से नाराज चल रहा है जो कि शिवपाल सिंह यादव भी समाजवादी पार्टी से एक बार फिर बगावती तेवर अपनाए हुए हैं। लिहाजा इस मुलाकात के सियासी मायने भी निकाले जाने लगे हैं।

इससे पहले राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने भी बुधवार को रामपुर जाकर आजम खान के परिवार से मुलाकात की थी। इस मुलाकात के दौरान जयंत चौधरी ने आजम खान के परिवार से अपना परिवार की रिश्ता बताया था। वहीं अब समाजवादी पार्टी के खिलाफ बागी रुख अख्तियार कर चुके शिवपाल सिंह यादव सपा के सबसे बड़े मुस्लिम चेहरे आजम खान से मिलने सीतापुर जेल पहुंच गए हैं। हालांकि शिवपाल सिंह यादव ने इससे पहले ही आजम खान से जेल में मुलाकात करने की बात कही थी। वहीं हाल में ही ओवैसी की पार्टी ने आजम खान को पत्र लिखकर AIMIM में शामिल होने का आमंत्रण दिया था।

दोनों नेता अखिलेश यादव से नाराज

समाजवादी समाजवादी पार्टी के सबसे बड़े मुस्लिम चेहरे आजम खान का खेमा हो या फिर शिवपाल सिंह यादव दोनों ही विधानसभा चुनाव के बाद से अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी से नाराज चल रहे हैं। बीते दिनों आजम खान के मीडिया प्रभारी ने अखिलेश यादव के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली थी और कहा था कि अखिलेश यादव मुस्लिमों को सिर्फ वोट बैंक समझते हैं।

वहीं, शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार को ही सपा के मुखिया अखिलेश यादव की उस टिप्पणी पर आपत्ति जताई थी जिसमें अखिलेश यादव ने कहा था कि बीजेपी से मिलने वाला सपा में नहीं रहेगा। अखिलेश यादव की इस टिप्पणी को शिवपाल यादव ने गैर जिम्मेदाराना करार देते हुए कहा कि अगर अखिलेश यादव ऐसा सोचते हैं तो मुझे विधायक दल से जल्द बाहर निकाल देना चाहिए।


Leave a Reply