Home अंदर की बात अमित कैसे बने भाजपा और मोदी के 'शाह', बड़ी रोचक है इनकी...

अमित कैसे बने भाजपा और मोदी के ‘शाह’, बड़ी रोचक है इनकी कहानी


  • भाजपा के दिग्गज नेता और देश के गृह मंत्री अमित शाह की स्टोरी
  • गुजरात से निकलकर भारत की राजनीति की दिशा और दशा भी तय किया

पोल टॉक नेटवर्क | दिल्ली

भारत के गृहमंत्री अमित शाह (Home minister Amit Shah) के बारे में आपने खूब पढ़ा, सुना और देखा होगा। आइये जानते हैं अमित शाह (Home minister Amit Shah) के बारे में इनकी पूरी कहानी। अमित शाह का जन्म 22,अक्टूबर 1964 में महाराष्ट्र में हुआ। अमित शाह का राजनीतिक जीवन सन् 1980 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ने और छात्र संघ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में 4 साल तक काम करने से शुरू हुआ। सन् 1982 मे अमित को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद गुजरात के संयुक्त सचिव बनाए गया।

सन् 1987 में अमित शाह (Home minister Amit Shah) भारतीय जनता युवा मोर्चा के सदस्य के रूप में नियुक्त किए गए। उसके बाद सन् 1989 में भाजपा,अहमदाबाद में गुजरात के सचिव के रूप में नियुक्त किए गए। साल 1995 में गुजरात राज्य के वित्त निगम के अध्यक्ष भी बनाए गए। सन् 1997 में अमित शाह ने विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ा और विधायक बन गए जिसमे उन्होंने लगभग 25000 मतों के अंतर से जीत हासिल की।

सन् 1997 में अमित शाह भारतीय जनता युवा के कोषाध्यक्ष भी बने। सन् 1998 में अमित शाह ने गुजरात विधानसभा के लिए लड़ा और कांग्रेस पार्टी के प्रधानूभाई कनुभाई पटेल को हराया और विधायक के रूप में फिर से चुने गए, और इसी वर्ष अमित शाह को भाजपा, गुजरात के राज्य सचिव के रूप में भी नियुक्त किए गया। सन् 1999 में गुजरात में भाजपा के राज्य उपाध्यक्ष बनाए गए।

उसके बाद साल 2000 में अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष के रूप में उनको चुना गया। सन् 2001 में भाजपा के राष्ट्रीय संयोजक सहकारिता प्रचारक बनाए गए और गौरव यात्रा का आयोजन भी उन्हीं को बनाया गया। सन् 2002 में अमित शाह ने फिर से सरखेज विधानसभा से चुनाव लड़ा और कांग्रेस के उम्मीदवार हिमांशु विट्ठल भाई पटेल को एक लाख के ज्यादा मतों के अंतर से हराया और चुनाव में एक बड़ी जीत हासिल की। अमित शाह को गृह परिवहन और विशेष के प्रमुख मंत्रालयों की जिम्मेदारियां भी दी गई है।

सन् 2007 में अमित शाह ने सरखेज निर्वाचन मंडल से फिर से दो लाख से ज्यादा वोटों के अंतर में जीत हासिल की और कांग्रेस पार्टी के शशिकांत जी पटेल को हराया जिसके बाद राज्य मंत्रिमंडल में शामिल किया गया और उन्हें गृह, परिवहन, निषेध, संसदीय कार्य, कानून और उत्पादन शुल्क जैसे प्रमुख विभागों की जिम्मेदारियां सौंपी गई। सन् 2012 में एक बार फिर अमित शाह ने विधानसभा चुनाव में एक बड़ी जीत हासिल की।

सन् 2013 में अमित शाह को गुजरात सरकार के भाजपा मंत्री के राष्ट्रीय महासचिव के रूप में नियुक्त किये गया, जिसके एक साल बाद सन् 2014 में उनको भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित किया गया। सन् 2017 में अमित शाह को राज्यसभा के लिए चुना गया और 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में उन्हें केंद्रीय गृह मंत्री के रूप में जिम्मेदारी सौंपी गई।


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

चौधरी साहब ताउम्र ग़रीबों, किसानों, नौजवानों और वंचितों की आवाज़ बने रहे : यज्ञेन्दु

चौधरी अजीत के बेटे जयंत ने दी सोशल मीडिया से जानकारी देश भर के नेताओं ने भावभीनी...

वैक्सीनेशन के पश्चात् मिलने वाले सर्टिफिकेट पर पीएम की फोटो नहीं लगाने वाला बयान अत्यन्त शर्मनाक : राजेन्द्र राठौड़

राजस्थान में ऑक्सीजन का कोटा 100 मीट्रिक टन बढ़ाकर 280 मीट्रिक टन से 380 मीट्रिक टन किया है ...

प्रदेश युवा कांग्रेस ने “सेवा दिवस” के रुप में मनाया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जन्मदिन

प्रदेश के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर, फल, भोजन, मास्क एवं सैनिटाइजर वितरण कार्यक्रम पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर  राजस्थान...

केन्द्र सरकार द्वारा दी जा रही सहायता से गहलोत सरकार जनता को दे राहत : सांसद रामचरण बोहरा

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और केंन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से की मुलाकात कोरोना आपदा प्रबंधन, रेमेडिसिवर...

कोरोना मरीजों और उनके परिजनों के लिए प्रदेश युवा कांग्रेस ने शुरू की ‘जनता रसोई’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा "कोई भूका ना सोए" को आगे बढ़ाते हुए को खाना उपलब्ध करवाने का लिया संकल्प पोल...