Home राजनीति से इतर LATEST UPDATE भाजपा का यह नेता : जिसे दिल्ली वालों ने चुनाव में हरा...

भाजपा का यह नेता : जिसे दिल्ली वालों ने चुनाव में हरा दिया, आज उसने पूरे भारत का दिल जीत लिया


दिल्ली . भैया…हम लोग महाराष्ट्र में फंसे हैं, राशन खत्म हो चुका है। कई दिन से कुछ नहीं खाया हैं। तेजिंदर जी…बिहार के कई मजदूर दिल्ली में फंसे हैं, कृप्या मदद करें। बग्गा जी…मेरे पिता की दवाई खत्म हो गई है, वो दिल के मरीज है। बहुत जरूरी है, कृपया मदद करें। तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के ट्विटर अकाउंट पर इस तरह के पोस्ट की भरमार है। भारत के लगभग हर कोने से लोग मदद की गुहार लगाते हैं और बग्गा बड़ी खुशी खुशी उन तक खाद्यान्न, दवाइयां आदि पहुंचा रहे हैं। बग्गा की निस्वार्थ सेवा ने सियासी खाई भी पाट दी है।

पालघर : जूना अखाड़े के साथ आये योगी, CM योगी ने उद्धव ठाकरे से की कठोर कार्रवाई की मांग

बिहार के सैकड़ों मजदूरों को राशन उपलब्ध कराने पर राजेडी नेता तेजस्वी व तेजप्रताप भी बग्गा का आभार जता चुके हैं एवं बिहार श्रृणी रहेगा सरीखी लाइनें लिख चुके हैं। लेकिन इतने लोग तक मदद पहुंचाने का यह सफर शुरू कैसे हुआ? बग्गा कहते हैं कि जब लॉकडाउन शुरू हुआ तो पहले दिन 3-4 लोगों ने मदद मांगी। मैंने मदद कर दी।

पालघर : महाराष्ट्र गृहमंत्री ने छुपाया सच ! CM उद्धव जिन्हें साधु कह रहे हैं उन्हें गृहमंत्री लोग बता रहे, तो क्या दोनों में टकराव है ?

उस समय मुझेे खुद भी नहीं पता था कि इतने लोगों की मदद कर पाऊंगा। पहले हफ्ते में ही एक समय प्रतिदिन 300-400 लोगों के कॉल आने लगे। मैं मदद करने लगा और हमारा कारवां भी बढ़ता गया। मेरी फिलॉसपी है कि कोई मदद मांग रहा है तो उसकी हर हाल में मदद होनी चाहिए। क्यों कि कोई यूं ही मदद नहीं मांगता है। तो हुआ यूं कि लोग ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम, वाट्सएप पर मदद मांगते और मैं उन तक राशन पहुंचाने की जुगत में जुट जाता। कई दिनों तक मैं ठीक से सोया नहीं। दिन में 20 घंटे तक लगा रहा।

लॉकडाउन एक्सक्लूसिव : राजस्थान का यह विधायक इस बार नहीं भर पाया अपने गाड़ी की क़िस्त, अपनी अंगूठी तक CM कोष में कर दिया दान

आंखें सूज गई थी। जहां बीजेपी कार्यकर्ताओं के जरिए मदद पहुंचा पाता वहां कार्यकर्ताओं की मदद लेता नहीं तो संघ, पतंजलि और आर्ट आफ लिविंग की मदद लेता। लेकिन मदद पहुंचती जरूर थी। देश का ऐसा कोई कोना नहीं, जहां हम लोगों ने इस एक मॉह के दौरान मदद ना पहुंचायी हो।

जब मैंने 3 करोड़ रूपये दे दिया तो अब 23 लाख रूपये की क्या जरूरत है : MLA रमेश चन्द्र मिश्र

अब तक एक डेढ लाख से ज्यादा की मदद
यह थोड़ा अटपटा सवाल था लेकिन बग्गा कहते हैं कि इस तरह का कोई हिसाब तो नहीं रखता। हां, प्रतिदिन मैं 200 लोगों को अपने सोशल मीडिया अकाउंटस पर रिप्लाई दे पाता हूं। मदद मांगने वालों में 5 सदस्यी परिवार से लेकर 200 लोगों का समूह तक शामिल होता है। प्रतिदिन करीब पांच हजार लोग हमसे जुड़ रहे हैं। जो एक महीने में डेढ़ लाख बैठता है।

पालघर : 101 लोगों को पुलिस ने लिया हिरासत में, गृह मंत्री ने दिए जाँच के आदेश

…जब बग्गा रो पड़े
इस एक माह के दौरान ऐसे कई वाकये आए जब आंखें डबडबा गई। ऐसा ही एक वाकया बग्गा बताते हैं कि अमेरिका के एक व्यक्ति ने ट्वीट किया। लिखा कि उनके दोस्त अहमदाबाद में रहते हैं। पति-पत्नी दोनों कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। उनका पांच साल का बच्चा है, जिसकी इस समय देखभाल करने वाला कोई नहीं। बकौल बग्गा, मैंने तत्काल उनसे बात की। पता चला कि बच्चा अस्पताल के एक स्टॉफ की गाड़ी में अस्पताल के बाहर मौजूद है। मैंने अहमदाबाद में अपने एक दोेस्त को मदद करने के लिए कहा। बाद में बताया गया कि बच्चे के एक रिश्तेदार भावनगर से आ तो रहे हैं लेकिन उनकी सोसायटी वाले बच्चे के साथ उन्हें शायद ही प्रवेश दें? मैंने उनसे बातचीत कर यह भरोसा दिलाया कि मैं सोसायटी के प्रेजिडेंट से बात करुंगा। खैर, आखिरकार उनकी मदद हो गई।

पालघर : जूना अखाड़े ने CM योगी से लगाई न्याय की गुहार, शिवसेना के हैं MP और MLA , नहीं आया बयान !
बग्गा कहते हैं कि मदद करके मानसिक खुशी मिलती है। यह समय थोड़ा मुश्किल जरूर है लेकिन यदि हम सब मिलकर रहें तो अच्छा समय भी जल्द ही आएगा।

(जैसा कि तेजिन्दर पाल बग्ग्गा ने ज्योंकात्यों ब्लॉग स्पॉट के एडिटर को बताया)


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...

YOUTH कांग्रेस कमेटी का विस्तार, आयुष भारद्वाज बने पहले संगठन महासचिव

युवा कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी का किया गया विस्तार राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अनुमति से हुआ...

“जन सहायता दिवस” के रूप में मनाया गया राहुल गाँधी का जन्मदिन

राजस्थान के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर एवं राशन किट वितरण कार्यक्रम 1500 यूनिट रक्त एकत्रित...