Home राजनीति से इतर LATEST UPDATE लॉकडाउन में ही सोमवार से बदला दिखेगा उत्तर प्रदेश का 'रंग'

लॉकडाउन में ही सोमवार से बदला दिखेगा उत्तर प्रदेश का ‘रंग’

लखनऊ से हिमांशु पुरी की रिपोर्ट 

मार्च से पूरे देश में चल रहे लॉक डाउन ने सबकुछ बंद कर रखा है। वहीं उत्तर प्रदेश में भी योगी सरकार लॉकडाउन को पूरी तरीके से लागू कराने के लिए सख्ती से लगी हुई है लेकिन इन सबके बीच आगामी सोमवार का दिन उत्तर प्रदेश के लिए खासा महत्व रखने वाला है। सरकार की आमदनी में इजाफे की तैयारी हो या रोजाना के कामगारों के लिए सरकार द्वारा उठाए जाने वाला विशेष कदम हो, यह सब सोमवार से उत्तर प्रदेश में बदलने वाला है। यही नहीं कोरोना वायरस के खतरे के बीच बढ़ती भुखमरी की चिंता भी सीएम योगी है और इसको लेकर उन्होंने अपने सभी उच्चाधिकारियों को सख्त निर्देश भी दिए हैं कि यूपी में एक भी व्यक्ति भूख से नहीं मरना चाहिए।

यूपी के CM YOGI ने 20 अप्रैल से यूपी की स्वास्थ्य व्यवस्था, शिक्षा और कृषि पर लिया बड़ा निर्णय

20 अप्रैल से जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार अपनी आमदनी में इजाफे को लेकर कई बड़े निर्णय धरातल पर उतारने की तैयारी कर चुकी है तो वहीं दूसरी तरफ सरकार के सरकारी दफ्तरों में भी अफसरों और कर्मचारियों का आना जाना शुरू होने वाला है। इसको लेकर सरकार की तरफ से गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं और खासकर सोशल डिस्टेंस को बनाते हुए कर्मचारियों को रोजाना दफ्तरों में बुलाया जाना है इसको लेकर दी योजना योगी सरकार द्वारा बनाई जा रही हैं। यही नहीं उत्तर प्रदेश की योगी सरकार इस दिन से आबकारी विभाग से खासा उम्मीद लगाए बैठी है क्योंकि लगभग 1 माह से बंद शराब की दुकानों को भी खोले जाने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं।

न्यू इंडिया नहीं नया भारत, स्मार्ट गांव और नया जीवन चाहिए !

वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश सरकार के डिप्टी सीएम केशव मौर्य, कद्दावर वित्त मंत्री सुरेश खन्ना के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार की आमदनी कैसे बढ़े, इसको लेकर भी एक टीम काम कर रही है। जिसमें ऑनलाइन रजिस्ट्री को प्रमुखता से शामिल किया जाना है। वहीं दूसरी तरफ रोजाना के कामगारों के लिए भी सोमवार का दिन खासा महत्वपूर्ण है क्योंकि इस दिन से उत्तर प्रदेश सरकार उनको कुछ काम करने की छूट दे रही है। जिससे कि उनकी दैनिक दिनचर्या पटरी पर लौट सके।

LOCKDOWN : मध्यमवर्गीय परिवार के लिए सरकार कुछ नहीं कर रही, सबको साथ लेकर चले : सुरेन्द्र राजपूत

वहीं दूसरी तरफ सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है किसी भी गरीब आदमी को भूखा ना रहना पड़े भले उसके पास किसी प्रकार का राशन कार्ड हो या ना हो। अगर उत्तर प्रदेश में है तो उसे खाना पर्याप्त मिलेगा और खासकर सीएम योगी ने इसको लेकर विशेष निर्देश भी अधिकारियों को दी है कि उत्तर प्रदेश में किसी की भूख से मौत नहीं होनी चाहिए तो ऐसे में आने वाले दिन निश्चित तौर पर कोरोना वायरस के खतरे के बीच उत्तर प्रदेश की दशा और दिशा को बदलने की तैयारी करते दिखाई दे रहे।

LOCKDOWN : नहीं बजेगी शहनाई और मैरिज हाल रह जाएंगे उदास, अरबों रूपये का नुकसान, लाखों परिवारों पर आर्थिक संकट

उत्तर प्रदेश सरकार के वित्त एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा सड़क पर खुद उतार कर सैनिटाइजर किया जा रहा है जिसको लेकर उत्तर प्रदेश सरकार में खासी चर्चा है जहां एक तरफ सीएम योगी कोरोना वायरस के खतरों के बीच दिन रात लोगों को सुरक्षित रखने के लिए किए हुए हैं वहीं उनकी टीम के कद्दावर मंत्रियों में शुमार सुरेश खन्ना भी सड़क पर उतरकर अपना दायित्व निभा रहे हैं.

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisement -

Must Read

संस्मरण : मुख्यमंत्री बनने के बाद भी कुछ ऐसे थे कर्पूरी ठाकुर

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपना संस्मरण किया साझा  कर्पूरी ठाकुर के जन्मदिन पर...

राजस्थान भाजपा में ‘राज’ के लिए ‘राजे’ की बढ़ी सक्रियता, पूनियां की धड़कन तेज

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की बढ़ी परेशानी, मिला है बड़ा टारगेट  चार विधान सभा सीटों पर होना है...

पत्रकारों पर रिसर्च : गंभीर बीमारियों की गिरफ्त में श्रमजीवी पत्रकार

डॉ. अनवर खान ने श्रमजीवी पत्रकारों के स्वास्थ्य संबंधित बीमारियां पर किया शोध अध्ययन पोल टॉक नेटवर्क | भोपाल  देश के अधिकांश...

दृष्टिकोण : जैक मा मुद्दे पर भारत उठाए मौके का लाभ

भारत को विश्वभर से निवेश करने और उद्यमियों की सुरक्षा को लेकर ऐलान करना चाहिए चीन...

लखनऊ में राष्ट्रीय राष्ट्रवादी के नेतृत्व में शुरू हुआ अनोखा सत्याग्रह

गरीबों के नाम पर चट कर गए पैसा, स्कूल अस्पताल के लिए गहरू कांशीराम कालोनी में हुई डीएम-सीएम की पूजा  ...
- Advertisement -