Home अंदर की बात सियासत के गलियारे से : राजस्थान भाजपा में वसुंधरा राजे ही हैं...

सियासत के गलियारे से : राजस्थान भाजपा में वसुंधरा राजे ही हैं गेम चेंजर, बाकी बस गिनती के हैं 


  • दिल्ली में राजस्थान भाजपा की पूरी टीम हुई तलब, वसुंधरा की स्थिति हुई मजबूत 
  • प्रदेश भाजपा में तनाव की स्थिति बनी, पूनिया के बारे में चर्चा तेज 

संतोष कुमार पाण्डेय | जयपुर 

राजस्थान की राजनीति में लगातार बदलाव हो रहा है. बदलाव भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस (congress) में भी देखा जा रहा है. दिल्ली में बैठक हुई, जिसमें भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता शामिल हुए लेकिन वसुंधरा राजे सिंधिया (Vasundhara Raje)  नहीं थीं. चर्चा थी कि भाजपा वसुंधरा सिंधिया को राजस्थान में किनारे लगाना चाहती है . लेकिन जब मीटिंग खत्म हुई तो कहानी कुछ और सामने आ रही है.

सूत्र बता रहे हैं कि जेपी नड्डा (jpnadda)  ने उस दौरान मीटिंग में सतीश पूनिया को फटकार लगाई है. उन्होंने कहा कि अगर आपको टीम बनाने के लिए दिया गया था तो आपने ऐसी टीम क्यों नहीं बनाई जिससे भाजपा मजबूत नहीं बल्कि कमजोर हो रही है. इस मसले की कहानी कुछ दिन पहले लिखी गई थी.

जब राजस्थान के प्रभारी अरुण कुमार सिंह (arun kumar singh) राजस्थान दौरे पर आये थे तो उसी दौरान उन्होंने सब कुछ समझा और देखा था. उन्होंने अपनी समीक्षात्मक रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को सौंपी. जिसमें यह पाया गया कि राजस्थान भाजपा में कई गुट सक्रिय हैं . माना जा रहा है इसी बात को लेते हुए भारतीय जनता पार्टी का शीर्ष नेतृत्व सभी को दिल्ली तलब कर दिया था , लेकिन वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) के न जाने से यह बात साफ हो रही थी उनकी दिक्कतें बढ़ेंगी लेकिन अब कहानी पलट गई है.

वहां पर यह बात साफ हो गई है कि वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje)  के अलावा भाजपा किसी भी राजनेता को आगे नहीं बढ़ाना चाहती है. यही बात राजस्थान की राजनीति में लगातार चल रही है. चर्चा का विषय यही है कि कांग्रेस से अधिक भाजपा में गुटबाजी जारी है. अभी आने वाले दिनों में यह सब देखने को मिल सकता है .


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...

YOUTH कांग्रेस कमेटी का विस्तार, आयुष भारद्वाज बने पहले संगठन महासचिव

युवा कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी का किया गया विस्तार राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अनुमति से हुआ...

“जन सहायता दिवस” के रूप में मनाया गया राहुल गाँधी का जन्मदिन

राजस्थान के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर एवं राशन किट वितरण कार्यक्रम 1500 यूनिट रक्त एकत्रित...