Home राजनीति से इतर जौनपुर : कोविड-19 के दौरान पत्रकार कर रहे अच्छा कार्य, वेब सेमिनार...

जौनपुर : कोविड-19 के दौरान पत्रकार कर रहे अच्छा कार्य, वेब सेमिनार में वक्ताओं ने कही बात


  • कोविड-19 के दौरान मीडिया की भूमिका विषयक ऑनलाइन राष्ट्रीय संगोष्ठी
  • मीडिया ने जन आस्था और मनोबल को बढाया है : प्रो. भानावत
  • मीडिया उद्योग को  सरकार पैकेज दे : सतीश के सिंह
उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में स्थिति वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय (Veer Bahadur Singh Purvanchal University) के जनसंचार विभाग और पीआर नीति के संयुक्त तत्वावधान में कोविड- 19 के दौरान ‘मीडिया की भूमिका के विविध आयामों’ पर रविवार को ऑनलाइन संगोष्ठी का आयोजन किया हुआ. इस संगोष्ठी में देश से लगभग 1500 से अधिक लोगों ने फेसबुक और ज़ूम एप के माध्यम से भाग लिया.

नेता कितने सोशल : अखिलेश यादव से इस मामले में बहुत पीछे हैं योगी आदित्यनाथ और मायावती !

मुख्य अतिथि राजस्थान विश्वविद्यालय के पत्रकारिता विभाग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कोविड-19 के दौरान जो चुनौतियाँ सामने आ रही हैं उनका जिक्र किया. अखबारों और ख़बरों की बात करते हुए उन्होंने कहा कि कई शब्दों का ठीक से प्रयोग नहीं हो रहा है. लॉकडाउन को अगर अलग लिखेंगे तो उसका अलग अर्थ होगा और एक में लिखेंगे तो अलग अर्थ होगा. कई चिंताओं पर भी उन्होंने लोगो का ध्यान आकृष्ट कराया. सोशल मीडिया ने भ्रामक ख़बरों के बावजूद आवश्यक सूचनाओं को राष्ट्रव्यापी स्तरतक पहुचाया है. मुख्य मीडिया की जिम्मेदारियों की ओर भी इंगित किया है.

बड़ी पहल : केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) की कैंटीनों पर अब सिर्फ स्वदेशी उत्पादों की ही बिक्री होगी : अमित शाह

विशिष्ठ अतिथि के तौर पर वरिष्ठ पत्रकार सतीश के सिंह दिल्ली से जुड़े थे. उन्होंने कहा कि इस दौर में सरकार ने हर सेक्टर को आर्थिक मदद देने का निर्णय लिया है. ऐसे में मीडिया उद्योग के लिए भी सरकार को एक पैकेज की घोषणा करनी चाहिए. जिससे पत्रकारों को दिक्कत न हो.

LIVE UPDATE : 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक पॅकेज की घोषणा : पीएम नरेंद्र मोदी

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो डॉ. राजाराम यादव ने कहा कि इस दौर में मीडिया के काम से समाज में उसकी अनिवार्यता सिद्ध हो गई है. आज देश के तमाम मीडियाकर्मी कोरोनो से जुडी खबरों को कवरेज  करने के दौरान संक्रमित हुए और अपनी जान भी गवाई. यह समय  पत्रकारिता करने वालों के लिए बहुत ही चुनौती भरा है. लेकिन कैसे भी हालत रहे हो पत्रकारों ने ख़बरों को पहुचाने में कोई कमी नहीं की है.
मुख्य वक्ता सूचना और प्रचार निदेशालय दिल्ली के उप निदेशक नलिन चौहान ने कहा कि आज हम एक अदृश्य आपदा का सामना कर रहे है. ऐसे सूचना का स्वरुप और भी महत्वपूर्ण हो गया है. सरकारों के विभाग सूचनाओं को उपलब्ध कराने में आगे आए है. गुरु गोविन्द सिंह इन्द्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली के डॉ. सर्वेश त्रिपाठी द्वारा विषय प्रवर्तन किया गया. एमिटी विश्वविद्यालय नोएडा की सहायक आचार्य डॉ. आशिमा सिंह ने संगोष्ठी का संचालन किया. संगोष्ठी के संयोजक डॉ. मनोज मिश्र ने अतिथियों का स्वागत किया. तकनीकी समन्वय आतुर शर्मा ने किया. आयोजन सचिव डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर एवं पीआर नीति की निदेशक विभा सिंह ने धन्यवाद् ज्ञापन किया. संगोष्ठी में देश के विभिन्न प्रदेशों से बड़ी संख्या में शिक्षक, शोधार्थी, विद्यार्थी, पत्रकारों ने प्रतिभाग किया. संगोष्ठी के सह संयोजक डॉ. सुनील कुमार एवं सदस्य डॉ. अवध बिहारी सिंह एवं डॉ. चन्दन सिंह जुड़े रहे.


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

कांग्रेस ने अनेकों घोटाले कर भारत के हित और साख को गिराया : डॉ. सतीश पूनियां

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत को आर्थिक उन्नति के साथ आत्मनिर्भर बना रहे, श्री मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व...

गरीबों को न्याय दिलाने सड़क पर उतरे पुष्पेंद्र भारद्वाज, मंत्री से की मुलाकात

न्यू सांगानेर रोड को 200 फीट चौड़ा नहीं करने के लिए दिया ज्ञापन न्यू सांगानेर रोड व्यापार...

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...