Gamini Singla Profile: कौन है गामिनी सिंगला जिसने UPSC में हासिल किया है तीसरा स्थान

0
85
who is gamini singla

  • गामिनी सिंगला ने हासिल की है UPSC परीक्षा में तीसरी रैंक
  • गामिनी सिंगला के पिता हैं चिकित्सा अधिकारी

पोलटॉक नेटवर्क | नई दिल्ली /आदित्य कुमार 

संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2021 (Civil Services Exam 2021) सत्र का रिजल्ट घोषित कर दिया है। इस परीक्षा में श्रुति शर्मा (Shruti Sharma) ने पहला स्थान स्थान प्राप्त किया है। श्रुति शर्मा के अलावा ऑल इंडिया रैंक 2 और 3 पर भी महिला उम्मीदवारों ने बाजी मारी है। अंकिता अग्रवाल (UPSC Topper Ankita Agarwal) ने दूसरा स्थान हासिल किया और चंडीगढ़ की गामिनी सिंगला (UPSC Topper Gamini Singla Chandigarh) ने तीसरा स्थान हासिल किया है। आइए जानते हैं UPSC परीक्षा में तीसरी रैंक हासिल करने वाली गामिनी सिंगला कौन हैं ?

कौन हैं गामिनी सिंगला ? (Who is Gamini Singla?)

सिविल सेवा परीक्षा 2021 के नतीजों में गामिनी सिंगला (Gamini Singla) ने देश भर में तीसरा स्थान हासिल किया है। हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर के श्री नयना देवी जी में डॉ. आलोक सिंगला और डॉ. नीरज सिंगला के घर साल 1998 में जन्मी गामिनी सिंगला के UPSC परीक्षा में तीसरी रैंक हासिल करने पर पूरा नैना देवी उपमंडल बेहद खुश है। गामिनी सिंगला का परिवार मूल रूप से पंजाब के संगरूर जिले के संनाम गांव का रहने वाला है। गामिनी सिंगला का जन्म भी यहीं हुआ है।गामिनी ने 10वीं कक्षा तक की पढ़ाई नंगल के जिंदवाड़ी में माउंट कॉन्वेंट स्कूल से पूरी की। 12वीं कक्षा तक चंडीगढ़ में पढ़ाई की।

पिता को दिया सफलता का श्रेय 

गामिनी सिंगला ने पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज चंडीगढ़ से कंप्यूटर साइंस में बीटेक की डिग्री पूरी की। गामिनी सिंगला ने UPSC की परीक्षा में वैकल्पिक विषय (UPSC optional subject) में समाजशास्त्र को चुना था। गामिनी सिंगला ने अपनी इस सफलता पर कहा कि कड़ी मेहनत और माता-पिता के समर्थन ने मुझे आईएएस अधिकारी बनने के अपने बचपन के सपने को हासिल करने में मदद की है। गामिनी ने बताया कि मेरे परिवार के सभी सदस्यों, विशेषकर मेरे पिता ने मेरी बहुत मदद की है, हम सभी हर उस चीज पर चर्चा करते थे जिससे मुझे अपना लक्ष्य हासिल करने में मदद मिली।  इतना ही नहीं मेरा समय बचाने के लिए, मेरे पिता मेरे लिए अखबारों से जानकारी लेकर कटिंग करके रखते थे. बता दें गामिनी के पिता डॉ आलोक सिंगला और डॉ नीरजा सिंगला पड़ोसी राज्य हिमाचल प्रदेश में चिकित्सा अधिकारी हैं और उनके भाई आईआईटी, खड़गपुर से स्नातक हैं।

बता दें, यूपीएससी ने बताया कि कुल 685 उम्मीदवारों – 508 पुरुषों और 177 महिलाओं ने परीक्षा उत्तीर्ण की और आयोग ने विभिन्न केंद्रीय सेवाओं में नियुक्ति के लिए उनकी सिफारिश की है। शीर्ष 25 उम्मीदवारों में 15 पुरुष और 10 महिलाएं शामिल हैं। भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय विदेश सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों का चयन करने के लिए यूपीएससी द्वारा हर साल सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है जिसमें – प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार शामिल होता है।


Leave a Reply