Home चुनाव उत्तर प्रदेश फिल्म इंडस्ट्री ही नहीं किसी भी इंडस्ट्री में महिलाओंं के साथ उत्पीड़न...

फिल्म इंडस्ट्री ही नहीं किसी भी इंडस्ट्री में महिलाओंं के साथ उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं : रवि किशन


  • ऐसा कानून बने कि कोई यह कहकर बेटियों के साथ सौदा न करें कि मै तेरी लाइफ बना दूँगा।
  • मै भी पिता हूँ मेरी भी बेटी है, गलत के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी

पोल टॉक नेटवर्क | दिल्ली 

गोरखपुर के सांसद रवि किशन (ravi kishan) ने संसद में बोलते हुए महिलाओंं के साथ हो रही सौदेबजी पर शख्त कानून बनाने की माँग की। उन्होंने कहा कि जैसा कि हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री जी ने कहा था ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ इससे मेरे भारत में समस्त बेटियां, मेरी भी बेटी और मै भी पिता हूँ उनमें एक बल आया एक शक्ति आई। शक्ति ऐसी कि वो अब निकलने लगी, बताने लगी कि उसके साथ क्या हुआ। अपनी पीड़ा को कहने की शक्ति आई। समस्त भारत के सामने,समस्त मीडिया के सामने, समस्त सोशल मीडिया के सामने बेटियों को एक बल मिला हमारी सरकार में। हमारे देश में दुर्गा, गौ माता की तरह बेटियों की पूजा की जाती है। यह हमारे सनातन धर्म में भी है।

बिजली वाली राजनीति : यूपी के उन 8 जिलों में 24 घंटे बिजली मिलेगी जहां पर उपचुनाव होना है ?

किसी भी इंडस्ट्री में बेटियों का शोषण न हो इसके लिए बने कानून

सांसद ने लोक सभा अध्यक्ष से माँग की कि म एक ऐसा कानून बनाया जाए कि बेटियों,महिलाओंं के साथ हो रहे अत्याचार को रोका जा सके। कोई हिम्मत न करें कि मै तेरी लाइफ बना दूँगा और इसके बदले सौदेबाजी करें। कोई भी अपने सपनो को लेकर जब छोटी छोटी जगहों से ऐसी जगहों पर जाता है तो उसका सब कुछ दांव पर लगा होता है। कोई अपनी ज़मीन बेचकर जाता है तो कोई अपनी बाइक।

सीएम योगी आदित्यनाथ की इस घोषणा से खुश हुए गोरखपुर के सांसद रवि किशन

वहाँ पहुँचकर जब कोई बेटी किसी बड़े निर्देशक के दफ़्तर की घंटी बजती है और उसकी इंट्री होती है तो उसके साथ सौदेबाजी की जाती है। यह सौदेबाजी क्यों होती है ? क्या अधिकार है किसी को सौदेबाजी का ? क्या अधिकार है यह कहने का तुम्हारी लाइफ बना दूँगा। एक कॉमप्रो माइज का सौदा करने की क्या जरूरत है। कब तक ऐसा चलेगा। मोदी सरकार हमारी सरकार में एक ऐसा कानून बनना ही चाहिए.

यूपी के बसपा सांसद रितेश पाण्डेय की विदेशी दुल्हन की बड़ी रोचक है कहानी


POLL TALK DESKhttps://polltalk.in/
पोल टॉक और PollTalk.In के सम्पादक संतोष कुमार पांडेय देश के कई शहरों में पत्रकारिता कर चुके हैं। ये शहर जो कार्यस्थल बने वाराणसी , लखनऊ, आगरा, देहरादून, नोएडा, जयपुर, बिहार, हैदराबाद, पानीपत, सतना में रहे हैं। इन संस्थानों में दी सेवाएं राजस्थान पत्रिका , दैनिक भास्कर, एग्रो भास्कर, हिन्दुस्थान, जनसन्देश न्यूज़ चैनल, जनसन्देश टाइम्स, ईटीवी भारत में कई वरिष्ठ पदों पर कार्य किये. राजनीति की सही जानकारी और कुछ रोचक इन्टरव्यू दिखाना प्राथमिकता है।

Leave a Reply

Must Read

मणिपाल में मीडिया और जनसंचार में बनाएं अपना करियर

पत्रकारिता और जनसंचार के क्षेत्र में कई नई स्वर्णिम संभावनाएं पैनडैमिक के दौरान विश्वस्तर पर हेल्थ कम्युनिकेशन...

मीडिया सच दिखाए, मगर डराए नहीं : प्रो. भानावत

एमजेआरपी यूनिवर्सिटी की मानसिक स्वास्थ्य पर मीडिया का प्रभाव विषयक वेबिनार पोल टॉक नेटवर्क | जयपुर प्रोफेसर डॉ. संजीव भानावत ने कहा...

डिजिटल स्टैम्प से पकड़े जा रहे है अपराधी : प्रो त्रिवेणी सिंह

155260 पर ऑनलाइन फ्रॉड की तुरंत करें शिकायत अमित दुबे ने साइबर अपराध से बचने के बताएं...

YOUTH कांग्रेस कमेटी का विस्तार, आयुष भारद्वाज बने पहले संगठन महासचिव

युवा कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी का किया गया विस्तार राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अनुमति से हुआ...

“जन सहायता दिवस” के रूप में मनाया गया राहुल गाँधी का जन्मदिन

राजस्थान के सभी 33 जिलों में रक्तदान शिविर एवं राशन किट वितरण कार्यक्रम 1500 यूनिट रक्त एकत्रित...